DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महाराष्ट्र की एसटीएफ पर हमला, अभियुक्त छुड़ाने की कोशिश

अलीगढ़। महाराष्ट्र एसटीएफ की टीम द्वारा ज्वैलरी के शोरूम में चोरी करने के अभियुक्त को गिरफ्तार करने को लेकर कोतवाली के मोहल्ला भुजपुरा में हंगामा हो गया। क्षेत्रीय लोगों ने एसटीएफ टीम पर हमला कर आरोपी को छुड़ाने की कोशशि भी की।

हंगामा बढ़ने पर दो थानों की फोर्स बुलानी पड़ गई। पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित कर महाराष्ट्र एसटीएफ को सुरक्षित अभियुक्त के साथ कोतवाली पहुंचाया। एसटीएफ अधिकारियों के अनुसार शोरूम में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद तस्वीरों से अभियुक्त की पहचान हो सकी।

उधर पूछताछ में अभियुक्त ने कानपुर, फिरोजाबाद, शिकोहाबाद सहित कई शहरों में चोरी की घटनाएं करना कबूला है। कोतवाली के नगला आशिक अली रोड निवासी 35 वर्षीय नईम की गिरफ्तारी के लिए मंगलवार की दोपहर महाराष्ट्र एसटीएफ की टीम इंस्पेक्टर किरन शिंदे और अजय खरडे के नेतृत्व में पहुंची।

सादा कपड़ो में पहुंची एसटीएफ टीम ने नईम को घर से गिरफ्तार कर लिया। परिवार के लोग कुछ समझ पाते वह नईम को लेकर चल दिए। परिवार के लोगों का शोर सुनकर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई। भीड़ ने एसटीएफ टीम को घेर लिया। उधर सूचना मिलने पर भुजपुरा पुलिस चौकी की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई।

क्षेत्रीय लोगों ने शोर मचाते हुए टीम पर हमला करते हुए अभियुक्त नईम को छुड़ाने का भी प्रयास किया। हंगामा बढ़ने पर कोतवाली, थाना देहलीगेट और सासनी गेट की पुलिस के अलावा सीओ राममोहन सिंह भी मौके पर पहुंच गए।

सीओ ने क्षेत्रीय लोगों को समझाते हुए महाराष्ट्र एसटीएफ टीम के बारे में बताया। इस दौरान टीम नईम से पूछताछ करने के लिए वहां से चल दी। पुलिस ने किसी तरह स्थिति को नियंत्रित किया। एसटीएफ अधिकारी किरन शिंदे ने बताया कि दो जनवरी को जलगांव के शनि पैंठ के पास दागीना ज्वैलरी कार्नर की तिजोरी काटकर एक करोड़ से अधिक की चोरी हुई थी। सीसीटीवी फुटेज में जलगांव के ही कुछ लोगों की पहचान होने पर उनके द्वारा नईम का खुलासा किया गया था।

वहीं पुलिस के अनुसार चोर काफी शातिर किस्म का है, उसके द्वारा कानपुर, फिरोजाबाद सहित अन्य शहरों में चोरी की घटनाएं किया जाना कबूल किया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महाराष्ट्र की एसटीएफ पर हमला, अभियुक्त छुड़ाने की कोशिश