DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इलेक्ट्रो स्टील में चक्का जाम आंदोलन जारी

तलगड़िया। प्रतिनिधि। इलेक्ट्रो स्टील में रैयतों को नियोजन एवं कामगारों को न्यूनतम मजदूरी, परिक्षेत्रिय विकास सहित 12 सूत्री मांगो को लेकर मासस विधायक अरूप चटर्जी एक बार फिर आंदोलन की राह पर हैं। अनिश्चितकालीन चक्का जाम आंदोलन चरम पर है। इसे जन आंदोलन का रूप देने के लिए गांव-गांव में घूमकर जन सम्पर्क अभियान चला रहे हैं। आंदोलन के दूसरे दिन कार्यकर्ता कोल ब्लॉक एवं स्टील प्लांट में चक्का जाम कर डेरा जमाए हुए हैं। मासस इन मांगों को लेकर पिछले एक साल से आंदोलनरत है।

10 जनवरी 13 को कोल ब्लॉक से शुरू चरणबद्ध आंदोलन 24 दिसम्बर को डीसी कार्यालय के समक्ष महाधरना के साथ समाप्त हुआ। इस बीच वार्ता का दौर चलता रहा। आश्वासन और भरोसा के साथ दिन भी टलता रहा लेकिन मांगों के समर्थन में परिणाम सून्य निकला।

इस आंदोलन को मासस ने टिकाउ नेतृत्व दिया। इस बीच विधायक समरेश सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष अंबिका खवास एवं इसके पूर्व विधायक उमाकांत रजक हुड़का जाम का कार्यक्रम किया था। 12 सूत्री मांगों के साथ 10 जनवरी 13 को 3 दिवसीय धरना दिया गया था।

28 जनवरी को चक्का जाम तीन दिन तक चला। इसबीच एसडीएम के साथ त्रिपक्षीय वार्ता हुई। 12 फरवरी को रैयतों के साथ वार्ता विफल हो गई। 22 फरवरी की त्रिपक्षीय वार्ता भी विफल रही। मामला आरएलसी धनबाद भेज दिया गया जो 5 अगस्त को रद्द हो गया।

इसके विरोध में 6 अगस्त को उत्पादन ठप का आंदोलन किया गया। 7 अगस्त के त्रिपक्षीय वार्ता में वेज स्ट्रक्चर का निर्धारण हुआ। रैयतों को नियुक्ति पत्र मुख्यमंत्री के हांथो वितरण करने का प्रस्ताव लिया गया।

पर इसपर पहल नहीं हुआ। पुन: 25 सितम्बर को चक्का जाम किया गया। 26 सितम्बर की रात में अरूप चटर्जी समेत दो दर्जन समर्थक गिरफ्तार हुए। इस मामले को मुख्यमंत्री ने हस्तक्षेप कर निपटाया। 30 सितम्बर को मुख्यमंत्री के बुलावे पर 500 रैयत रांची गए।

बैठक में मुख्यमंत्री ने तीन महीने में मामला को सुलझाने का आश्वासन दिया। इस बीच 25 नवम्बर को स्टील गेट के समक्ष चेतावनी रैली किया गया और 24 दिसम्बर को डीसी कार्यालय के समक्ष विशाल जनप्रदर्शन किया गया।

आंदोलन को मिला दिग्गजों का साथ: शारीरिक अस्वस्थता एवं अक्षमता के बावजूद कोयलांचल के वयोवृद्ध वामपंथी नेता पूर्व सांसद एके राय, पूर्व विधायक हारू रजवार, विधायक मथुरा प्रसाद महतो, पैलुस सुरीन, झामुमो केन्द्रीय महासचवि संतोष रजवार ने समर्थन दिया। मासस अपने दूसरे चरण के आंदोलन के तहत एकबार फिर आर-पार की लड़ाई के मूड में है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इलेक्ट्रो स्टील में चक्का जाम आंदोलन जारी