DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हड़ताल के दूसरे दिन भी बैंकों में लटके रहे ताले

चाईबासा निज संवाददाता। बैंककर्मियों की देशव्यापी हड़ताल के दूसरे दिन भी पश्चिमी सिंहभूम जिले के विभिन्न बैंकों की शाखाओं में ताले लटके रहे। एटीएम भी बंद रहे। झारखंड प्रदेश बैंक इम्पलाइज एसोसिएशन और यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक इम्पलाईज यूनियन के पश्चिमी सिंहभूम जिला अध्यक्ष अखिलेश्वर कुमार उपाध्याय और सचवि नीलांबर झा ने दो दिवसीय इस हड़ताल से पूरे जिले में लगभग दो हजार करोड़ रुपये के नुकसान का दावा किया है।

उन्होंने बताया कि हड़ताल में निजी बैंकों ने भी पूरा सहयोग किया। उन्होंने बताया कि कर्मचारियों और अधिकारियों के वेतन पर अगर सहमति नहीं बनी, तो आने वाले दिनों में बैंककर्मी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर भी जा सकते हैं। हड़ताल के दूसरे दिन मंगलवार को जैन मार्केट चौक पर हड़ताली बैंककर्मियों ने अपनी एकजुटता का प्रदर्शन किया।

इस अवसर पर मुख्य रूप से विजय देवगम, बुधराम कुदादा, सुजीत कुमार, किशोर राम, दयानंद साहू सहित काफी संख्या में बैंककर्मी उपस्थित थे। झारखंड ग्रामीण बैंक इम्पलाईज यूनियन के क्षेत्रीय सचवि दिवाकर बनर्जी ने भी हड़ताल की पूर्ण सफलता का दावा करते हुए कहा कि पश्चिमी सिंहभूम, पूर्वी सिंहभूम तथा सरायकेला-खरसावां जिले में स्थित 81 शाखाएं पूर्ण रूप से बंद रहीं।

अमला टोला स्थित बैंक के क्षेत्रीय कार्यालय के समक्ष हड़ताल बैंककर्मियों ने अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी की एवं प्रदर्शन किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हड़ताल के दूसरे दिन भी बैंकों में लटके रहे ताले