DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गांवों में लगेंगे डेढ़ लाख नए ट्रांसफार्मर

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। राज्य में बिजली क्षेत्र में सुधार कार्यो को और तेज किया जाएगा। इसके लिए राज्य सरकार ने कई अहम निर्णय लिए हैं। विशेषकर गांवों में बिजली सप्लाई ठीक करने के लिए डेढ़ लाख नए ट्रांसफार्मर लगेंगे। 33/11 केवीए के 300 नए पावर सब स्टेशन बनाए जाएंगे और 950 ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाई जाएगी।

उर्जा मंत्री विजेंद्र यादव के अनुसार उक्त कार्यों से राज्य में बिजली का इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत होगा। हर गांव और टोले तक बिजली पहुंचेगी। काम को समय से पूरा करने के लिए राज्य सरकार बिजली कंपनियों को सभी संसाधन उपलब्ध करा रही है।

श्री यादव मंगलवार को सूचना भवन में आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस में बोल रहे थे। बेहतर सिस्टम जरूरीविभाग के सचवि संदीप पौंड्रिक के अनुसार राज्य में वितरण व्यवस्था की क्षमता बेहतर नहीं है। इससे बिजली होते हुए भी उपभोक्ताओं को पूरी सप्लाई नहीं मिल पा रही।

ऊर्जा विभाग और बिजली कंपनियां इस पर काम कर रही हैं। अगले दो साल में इसके परिणाम सामने आने लगेंगे। ट्रांसफार्मरों की क्षमता बढ़ेगी 950 ट्रांसफार्मर की क्षमता बढ़ाई जाएगी 200 ट्रांसफार्मर का काम शुरू 3 एमवीए के ट्रांसफार्मर को 5 एमवीए में बदला जाएगा5 एमवीए के ट्रांसफार्मर को 10 एमवीए में बदला जाएगा 1.6 एमवीए के ट्रांसफार्मर को 5 एमवीए में बदला जाएगा।

डेढ़ साल में पूरा होगा कामः फायदाबिजली सप्लाई सिस्टम सुधरेगागांव और शहर को अधिक और निर्बाध बिजली मिलेगीलोड अधिक होने पर भी ट्रांसफार्मर जलेंगे नहींनए पावर सब स्टेशन लगेंगे 300 नए पावर सब स्टेशन बनेंगे545 पावर सब स्टेशन हैं राज्य मेंढाई साल में पूरा होगा कामफायदाऐसे गांव जहां अभी बिजली नहीं पहुंच रही, वहां भी इसकी सुविधा मिलेगी।

गांव में बिजली सप्लाई में सुधार होगाकृषि एवं उद्योगिक क्षेत्र के लिए लगातार बिजली सप्लाई हो सकेगीलंबे फीडरों (60 से 90 किमी तक) की लंबाई कम होगी, जिससे ब्रेक डाउन भी कम होंगेरोटेशन पर फीडर नहीं चलेंगेसभी प्रखंडों में कम से कम एक पावर सब स्टेशन और कुछ बड़े प्रखंडों में दो पावर सब स्टेशन हो जाएंगेबढ़ेगी बिजली सप्लाई की सुविधाएं1 लाख 55 हजार नए ट्रांसफार्मर लगेंगे2 लाख किलोमीटर से अधिक बिजली लाइन का विस्तार होगा94 हजार ट्रांसफार्मर अभी काम कर रहे हैं200 केवीए के 7,590 लगेंगे।

अभी 5 हजार हैं100 केवीए के 15,541 लगेंगे। अभी 30 हजार हैं63 केवीए के 1,31,000 लगेंगे। अभी 65 हजार हैं डेढ़ साल में पूरा होगा काम फायदा तीन गुनी हो जाएगी क्षमताहर गांव, टोले में बिजली की उपलब्धता सुनशि्चित होगीबिजली सप्लाई का सिस्टम बेहतर और मजबूत होगाराज्य में उपभोक्ताराज्य में 42 लाख उपभोक्तासुधार के बाद संख्या 1 करोड़ तक पहुंच जाएगीइस साल 3000 मेगावाट बिजली सप्लाई का लक्ष्य अब तक ये हुआ एक साल में 1200 से बढ़कर 2340 मेगावाट पहुंची बिजलीसभी जिलों में पावर ट्रांसफार्मर की क्षमता में 908 मेगावाट का विस्तारदावा, 22 घंटे जिला मुख्यालयों और 15 घंटे गांवों में दी जा रही बिजलीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गांवों में लगेंगे डेढ़ लाख नए ट्रांसफार्मर