DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शिक्षकों ने की बकाया राशि के भुगतान की मांग

बोधगया/हमारे प्रतिनिधि। मगध विश्वविद्यालय मुख्यालय के शिक्षकों ने अपने विभिन्न प्रकार के बकाया राशि की भुगतान की मांग की है। काफी दिनों से प्रोन्नति के लंबित मामले के निपटारे की मांग भी शिक्षकों ने की है। मंगलवार को स्नातकोत्तर शिक्षक संघ के कार्यकारिणी की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये है।

बैठक में संघ के महासचवि डा़ पीयूष कमल सिन्हा ने बताया कि संघ की मंगलवार को सम्पन्न हुई कार्यकारिणी की बैठक में प्रस्ताव पारित कर निर्णय लिया गया है कि कार्यकारी कुलपति होने के कारण काफी दिनों से चयन समिति तथा जांच समिति की बैठक नहीं होने के कारण शिक्षकों की प्रोन्नति का कार्य बाधित था।

अब स्थाई कुलपति ने पदभार ग्रहण कर लिया हैं इसलिए अब चयन समिति तथा जांच समिति की बैठक बुलाकर शिक्षकों की प्रोन्नति के कार्य को नबिटाया जाना चाहिए। शिक्षकों की यूजीसी वेतनमान की जनवरी 2006 से जनवरी 2010 तथा अप्रैल 2010 से जुलाई 2010 की वेतनातर की राशि तथा जुलाई 2012 से फरवरी 2013 के महगांई भत्ते के भुगतान की मांग भी शिक्षकों ने की है। परीक्षा संबंधित मूल्यांकन तथा यात्रा भत्ता की सिन्डीकेट द्वारा बढ़ाई गयी राशि के भुगतान की मांग भी की गयी है।

बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि सेमिनार, कॉन्फ्रेंस तथा रसिरे्च के कार्य को विकास शाखा से अब गति मिलनी चाहिए। स्नातकोत्तर शिक्षक संघ द्वारा 18 फरवरी को नये वीसी तथा प्रोवीसी का स्वागत करने तथा 25 फरवरी को आमसभा की बैठक बुलाने का भी निर्णय लिया गया है।

डा़ सिन्हा ने बताया कि कार्यकारिणी की बैठक में लिए गये निर्णय से प्रोवीसी को अवगत करा दिया गया है तथा बुधवार को मांगों से सम्बन्धित ज्ञापन वीसी को सौंपा जायेगा। स्नातकोत्तर शिक्षक संघ के अध्यक्ष डा़ उपेंद्रनाथ वर्मा ने की।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शिक्षकों ने की बकाया राशि के भुगतान की मांग