DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

14 ट्रक समेत 50 लाख का माल जब्त

मुजफ्फरपुर। कार्यालय संवाददाता। नियमों को ठेंगा दिखाकर माल ढुलाई करने के मामले में वाणिज्यकर विभाग की विशेष टीम ने माल समेत 14 ट्रकों को जब्त किया है। जब्त माल की कीमत लगभग 50 लाख रुपये आंकी गई है। सोमवार देर रात से मंगलवार सुबह तक हुई जांच व कार्रवाई में इन ट्रकों को पकड़ा गया।

विभाग की विशेष टीम ने तिरहुत व सारण प्रमंडलों के मुजफ्फरपुर और मोतहिारी को जोड़ने वाली लगभग आधा दर्जन लिंक रोड पर जांच अभियान चलाया। पटना मुख्यालय के निर्देश पर हुई इस कार्रवाई से व्यवसायियों में हड़कंप मचा हुआ है। जब्त माल में पांच ट्रक कोयला और 25 लाख रुपये का दो ट्रक सरसों तेल भी शामिल है। जब्त एक ट्रक पर रिफाइन लदा है। जब्त ट्रकों में दो आजाद ट्रांसपोर्ट और सूरज ट्रांसपोर्ट व बिहार कैरिंग का एक-एक ट्रक है।

एक लोकल निजी ट्रक है। इसके अलावा एक ट्रक सीमेंट जब्त की गई है। ट्रांसपोर्टरों के ट्रकों का सत्यापन कल किया जाएगा। सभी जब्त ट्रक को वैशाली, हाजीपुर, मुजफ्फरपुर के अहियापुर व कांटी थाने में लगाए गए हैं। कोयला माफियाओं का लिंक उत्तरप्रदेश से विभागीय अधिकारियों के लिए आजकल सबसे बड़ी चुनौती कोयला माफिया बने हुए हैं। पासवर्ड हैक कर दूसरे की ऑनलाइन परमिट से कोयला मंगाये जाने के कई मामलों के खुलासे से सतर्कता बढ़ा दी गई है। कोयला माफियाओं का लिंक उत्तरप्रदेश से है।

जब्त सभी पांचों ट्रक कोयला का परमिट यूपी के गोरखपुर का था। झारखंड से चली कोयले की इस खेप को मोतहिारी, मुजफ्फरपुर और मधुबनी में उतारने को प्रयास किया जा रहा था। धावा दल के उपायुक्त केके चौधरी ने बताया कि मुजफ्फरपुर दरभंगा और मोतहिारी एनएच से मंगलवार को जिन कोयला लदे ट्रकों को पकड़ा गया, उनका परमिट गोरखपुर के लिए था। जांच की गयी तो पता चला कि गोरखपुर जाने के बजाए कोयले की इन खेपों को उत्तर बिहार में खपाया जाना था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:14 ट्रक समेत 50 लाख का माल जब्त