DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बैग छीनकर बदमाशों ने ट्रेन से महिला को फेंका

जमानियां (गाजीपुर)। हिन्दुस्तान संवाद। अप हावड़ा-हरिद्वार में सवार महिला से सोमवार की देर रात बैग छीनने के बाद बदमाशों ने उसे चलती ट्रेन से नीचे फेंका दिया। जमानियां स्टेशन प्रशासन को जब इस बात की सूचना मिली तो तत्काल ही 108 नम्बर की एम्बुलेंस को बुलाया।

घायल महिला को आनन-फानन में नजदीक के सीएचसी पर ले जाया गया। जहां डाक्टरों ने उसकी हालत नाजुक बताते हुए जिला अस्पताल में रेफर कर दिया। कोलकता शहर के दक्खिन काली मंदिर कालोनी की 30 वर्षीया सोनी मजूमदार पत्नी रूपचंद्र मजूमदार दर्शन-पूजन के लिए हरिद्वार जा रहे थे। उनके साथ ट्रेन की बोगी में अन्य दर्शनार्थी भी थे। महिला के अनुसार ट्रेन की बोगी में करीब छह बदमाश भी मौजूद थे। बदमाशों ने उनके हैंडबैग में रखे रुपयों को देख लिया और उसे लूटने की फिराक में लग गये।

बोगी में अधिक भीड़ होने के चलते सोनी अपना बैग लेकर गेट के पास ही स्थित सीट के बगल में बैठी थी। रात करीब एक बजे जब ट्रेन जमानियां स्टेशन के करीब पहुंची तो बदमाशों ने रुपयों से भरे बैग को सोनी के हाथ से छीनना शुरू किया। महिला ने इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उसका बैग छीनने के बाद उसे चलती ट्रेन से नीचे फेंका दिया। ट्रेन जब चंदौली जिले के धीना स्टेशन के करीब पहुंची तो रूपचंद्र अपनी पत्नी को न देख घबरा गया।

उसने तत्काल ही चेनपुलिंग कर ट्रेन को रोक दिया और नीचे उतर गया। उसके साथ दूसरे अन्य लोग भी ट्रेन से उतर गये। उसके बाद जमानियां रेलवे स्टेशन के अधिकारियों को सूचना दी। एंबुलेंस पहुंचने पर घायल महिला को सीएचसी पर लाया गया। वहां से महिला को जिला अस्पताल भेज दिया गया। मंगलवार को दिलदारनगर आरपीएफ प्रभारी एआर प्रसाद व जीआरपी प्रभारी एसपी सिंह महिला का बयान लेने के लिए जिला अस्पताल पहुंचे। चूंकि महिला के चेहरे व सिर पर गम्भीर चोटें लगी थी।

इसलिए वह बोल पाने में असमर्थ थी। उसके परिवार के लोगों ने जीआरपी को बयान दिया। घटना के सम्बंध में जीआरपी इंचार्ज को तहरीर दे दी गयी है। उन्होंने बताया कि महिला के बैग में दस हजार रुपये और मोबाइल फोन था। जिसे लेकर बदमाश फरार हो गये है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बैग छीनकर बदमाशों ने ट्रेन से महिला को फेंका