DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

थानेदार समेत चार सिपाहियों के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज

उरई हिन्दुस्तान संवा।द समाचार संकलन के दौरान पत्रकार के साथ मारपीट कर थाने में बंद करने के मामले में कोर्ट के आदेश पर तत्कालीन थानेदार व चार सिपाहियों के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पीड़ित ने आरोप लगाया है कि थानेदार व सिपाहियों ने उनका कैमरा व तीन हजार रुपए छीन लिए थे।

पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। 14 जनवरी को कस्बा रामपुरा में मवेशी की पूंछ मिलने के बाद तनाव फैल गया था और दो समुदाय आमने सामने आ गए थे। इस दौरान कवरेज कर रहे पत्रकार व वकील पवन सिरौठिया के साथ तत्कालीन थानाध्यक्ष हरेंद्र यादव, थाने में तैनात सिपाही विनय कुमार, नृपेंद्र सिंह, अशोक कुमार, प्रमोद कुमार ने उनके साथ मारपीट करते हुए उन्हें थाने में बंद कर दिया था। बाद में उच्च अधिकारियों के दबाव के बाद उसे छोड़ा गया था।

पीड़ित पत्रकार का आरोप है कि थानेदार व सिपाहियों ने उसका कैमरा व तीन हजार रुपए भी छीन लिए थे। घटना के बाद पीड़ित ने कार्रवाई के लिए अधिकारियों को कई बार शिकायती पत्र भेजे। पर सुनवाई न होने के कारण उसे कोर्ट की शरण में जाना पड़ा। अब कोर्ट के आदेश पर रामपुरा थानाध्यक्ष हेमन्त गौड़ ने तत्कालीन थानाध्यक्ष हरेंद्र यादव व थाने में तैनात उक्त सिपाहियों के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज कर लिया है। मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपी पुलिसकर्मियों में हड़कंप मचा है।

वहीं इस बारे में रामपुरा थानाध्यक्ष हेमन्त गौड़ ने कहा कि मुकदमा दर्ज करके छानबीन शुरू कर दी गई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:थानेदार समेत चार सिपाहियों के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज