DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

छात्रा ने जहरीला पदार्थ खाकर दी जान

बांदा। हिन्दुस्तान संवाद। शहर के इंद्रानगर मोहल्ले में सोमवार की शाम छात्रा ने जहरीला पदार्थ खाकर जान दे दी। घरवालों का कहना है कि मामूली बात पर डांटने में छात्रा ने जहरीला पदार्थ खाया है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा भर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इंद्रानगर मोहल्ला निवासी संतोष कुमार शवहिरे की पुत्री रोशनी उर्फ वंदना (17) सरस्वती बालिका विद्या मंदिर इंटर कालेज की कक्षा नौ की छात्रा थी।

सोमवार की शाम लगभग पांच बजे रोशनी ने जहरीला पदार्थ खा लिया। कुछ देर बाद घरवालों को जानकारी हुई तो आनन फानन जिला अस्पताल लेकर आए। जहां डाक्टर ने प्राथमिक इलाज के बाद हालत गंभीर देख कानपुर रेफर कर दिया। लेकिन रास्ते में रोशनी ने दम तोड़ दिया। चाचा ने बताया कि चौदह साल पहले रोशनी की मां चंपा देवी ने भी जहर खाकर जान दे दी थी। मां की मौत के बाद रोशनी की जिम्मेदारी हम लोगों पर थी।

पिता अकरबई में रहकर खेती बाड़ी का काम देखते हैं। सोमवार को मामूली बातों पर रोशनी को डांट दिया था। जिससे रोशनी क्षुब्ध थी। घरवाले रोशनी से बेहद प्यार करते थे। उन्हें अंदाजा नहीं था कि मामूली डांटने में रोशनी जान दे देगी। रोशनी की मौत से परिवार में कोहराम मचा है। रोशनी पिता की एकलौती संतान थी। इनसेट. शादी के लिए तलाश रहे थे लड़का रोशनी की शादी के चर्चे भी घर में होने लगे थे। चाचा ने बताया कि उनकी तीन बेटियां हैं।

रोशनी को भी बेटी मान कर पालन पोषण करते थे। वह मानते थे कि तीन नहीं उनकी चार बेटियां हैं। रोशनी की शादी कानपुर से किसी गेस्ट हाउस में करना चाहते थे। इसके चर्चे भी आए दिन होते रहते थे। लड़के की तलाश की जा रही थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:छात्रा ने जहरीला पदार्थ खाकर दी जान