DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महरौली में मणिपुरी युवक को चाकू मारा, गंभीर

नई दिल्ली वरिष्ठ संवाददाता। उत्तर-पूर्व के लोगों पर लगातार हो रहे हमलों के बीच ही मंगलवार तड़के सुबह एक मणिपुरी युवक को चाकू से मार घायल कर दिया गया। सुबह-सुबह यह घटना दक्षिण जिले के महरौली थाना क्षेत्र में स्थित पर्यावरण में सामने आई। सूचना मिलने के बाद ही पुलिस अधिकारियों में अफरा-तफरी मच गई और वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस का कहना है कि लूट की वारदात को अंजाम देने के लिए हमलावरों ने चाकू से वार किया था।

हालांकि इस मामलें में हत्या का प्रयास और लूट की धाराओं के तहत अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। घायल की पहचान खूबसियानगेन के रूप में की गई है। घायल का बयान लेने की कोशशि में पुलिस है।

चिकित्सकों ने उसकी स्थिति खतरे से बाहर लेकिन गंभीर बताई है। एनजीओ कार्यालय से निकला था :पुलिस के अनुसार सैदुल्लाजाब क्षेत्र में ही 22 वर्षीय घायल के एनजीओ का कार्यालय है। वहां पर सोमवार की रात को एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।

युवक वहीं पर सुबह करीब तीन बजे लौट रहा था। उसी समय करीब चार से पांच युवकों ने घर से थोड़ी ही दूरी पर उसे घेर लिया। इसके उसके पेट पर चाकू से वार किया और पीटा भी। पुलिस का दावा है कि हमलावर उसका मोबाइल फोन भी ले गए हैं।

गार्ड प्रेम ने पहली दफा देखा :घायल अवस्था में ही पर्यावरण सी ब्लाक स्थित अपने किराए के मकान में युवक पहुंच गया। घटनास्थल से घर तक खून फैला गया था।

इसके साथ ही वहां तैनात गार्ड प्रेम कुमार ने उसे देखा। फिर उसके रूमपार्टनर को इसकी सूचना दी। रूम पार्टनर भी एनजीओ कार्यालय में था और लौटा नहीं था। वह अपने अन्य साथियों के साथ आया और घायल साथी को लेकर साकेत सिटी अस्पताल पहुंचा। जहां उसका इलाज शुरू हुआ।

लिवर तक पहुंचा चाकू :प्राथमिक निरीक्षण के बाद ही उसे ऑपरेशन थिएटर में शिफ्ट कर दिया गया। वहां कई घंटों तक चिकित्सक इलाज में जुटे रहे। चिकित्सकों ने बताया कि उसकी हालत खतरे से बाहर है।

हालांकि स्थिति गंभीर बताई गई है। अस्पताल में मौजूद उसके करीबियों का कहना था कि चाकू की नोंक उसके लविर तक पहुंच गई है जिससे खतरा बढ़ गया है। इस बीच पुलिस ने भी चिकित्सकों के हवाले से घायल की स्थिति बेहतर बताई है।

अस्पताल में तैनात थी विशेष पुलिस फोर्स :उत्तर-पूर्व के लोगों पर लगातार होते हमले के बाद अलग-अलग जगहों पर हो रहे आंदोलन के मद्देनजर साकेत सिटी अस्पताल पर भारी सुरक्षा इंतजाम किए गए थे। प्रदर्शन आदि की स्थिति से निपटने के लिए वहां पुलसकर्मियों की तैनाती कर दी गई है।

इसके साथ ही निजी सुरक्षागार्डो के कमरों में भी पुलिस वाले ही मौजूद थे। ट्रैफिक पुलिस के जवान भी पूरी स्थिति पर खास ध्यान दिए हुए थे लेकिन शाम तक वहां कोई हंगामें जैसी स्थिति नहीं थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महरौली में मणिपुरी युवक को चाकू मारा, गंभीर