DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऑनलाइन होगा पंचायतों का रिकॉर्ड

पलवल। राज्य में पंचायतों के तंत्र को मजबूती देने के लिए पंचायत विभाग ने कमर कस ली है। राज्य सरकार ने राजीव गांधी पंचायत सशक्तिकरण अभियान के तहत प्रदेश के सभी ग्राम सचविों को कंप्यूटर में दक्षता दिलाने की योजना पर काम शुरू हो गया। इसी सप्ताह से सभी जिलों के ग्राम सचविों को तीन सप्ताह का प्रशिक्षण देने के लिए सभी पुख्ता प्रबंध कर लिए हैं।

ये है योजना : राजीव गांधी पंचायत सशक्तिकरण अभियान के तहत सरकार ने सभी ग्राम पंचायतों को ऑनलाइन सिस्टम से जोड़ने का लक्ष्य रखा है। इस अभियान में प्रदेश के करीब 2,500 ग्राम सचिवों को तीन सप्ताह का प्रशिक्षण दिया जाएगा। 10 फरवरी से शुरू हुए प्रशिक्षण देने का जिम्मा हारट्रोन को सौंपा गया है। जिला स्तर पर प्रशिक्षण देने का कार्य सोमवार से शुरू कर दिया गया। जिसमें पंचायतों के सभी कार्य कंप्यूटर से करने के बारे में सिखाया जाएगा।

टेस्ट में पास होने पर मिलेगा लैपटॉप :- तीन सप्ताह के प्रशिक्षण के बाद ग्राम सचिवों का टेस्ट लिया जाएगा। टेस्ट में पास होने वाले ग्राम सचिवों को सरकार की ओर से लैपटॉप उपलब्ध कराया जाएगा। लैपटॉप के माध्यम से ग्राम सचवि अपने अधीन आने वाली पंचायतों के विकास कार्यो का रिकॉर्ड रख सकेंगे।

ग्राम सचिवों को लैपटॉप सिर्फ पंचायतों के कार्यो के लिए ही मुहैया करवाए जाएंगे। सरकार की महत्वाकांक्षी योजना के लिए पंचायती राज ने सभी पुख्ता प्रबंध कर दिए हैं। परीक्षा में फेल होने वाले ग्राम सचिवों को लैपटॉप नहीं दिए जाएंगे।

सभी पंचायतों का रिकॉर्ड होगा ऑनलाइन :- खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी पूजा शर्मा का कहना है कि प्रदेश की सभी पंचायतों को राजीव गांधी पंचायत सशक्तिकरण अभियान के तहत ऑनलाइन कर दिया जाएगा। इस चरण में सभी ग्राम सचिवों को कंप्यूटर में दक्ष बनाने के लिए प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है। जल्द ही प्रदेश की सभी ग्राम पंचायतों को हाईटेक सिस्टम से जोड़ दिया जाएगा। समाप्तं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ऑनलाइन होगा पंचायतों का रिकॉर्ड