अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रिश्वत नहीं दी तो फेल हो गए

छत्तीसगढ़ मं युवा आईएएस अफसरां स विभागीय परीक्षा मं पास करान क लिए रिश्वत मांगन का मामला सामन आया है। बताया जाता है कि रिश्वत न दन पर चार अफसरों का तीन बार फल कर दिया गया। इसस नाराज हाकर 2004 बैच क आईएएस अफसर अमित कटारिया न वेतन लना बंद कर दिया है। बाकी तीन अफसरां न मुख्य सचिव शिवराज सिंह स इसकी शिकायत की है। इस बार में मुख्य सचिव का कहना है कि उन्होंन विधि विभाग का दाबारा कापी चक करन का निर्दश दिया है। आईआईटी जैसी संस्थाओं मं पढ़ और यूपीएससी जैसी कठिन परीक्षा दकर आईएएस बन 2004 बैच क अमित कटारिया, अविनाश चंपावत और 2005 बैच क मुकश बंसल एवं रजत कुमार न सपन मं भी नहीं साचा हागा कि औपचारिकता समझी जान वाली परीक्षा में रिश्वत मांगी जाएगी। क्रिमिनल प्रासिजर कोर्स में चारां अफसरांे का बार-बार फल कर दिया जा रहा है। अफसरों ने जब आला अधिकारियां स फरियाद की ता उन्हं मुंह बंद रखने को कहा गया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रिश्वत नहीं दी तो फेल हो गए