DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वीरप्पा मोइली ने केजरीवाल के आरोप का किया खारिज

वीरप्पा मोइली ने केजरीवाल के आरोप का किया खारिज

गैस मूल्य निर्धारण मामले में अरविंद केजरीवाल के आरोपों को खारिज करते हुए पेट्रोलियम मंत्री एम वीरप्पा मोइली ने मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री को करारे जवाब में कहा कि पेट्रोलियम उत्पादों का मूल्य निर्धारण विशेषज्ञों की सलाह पर किया जाता है।

पेट्रोलियम मंत्री ने यह भी कहा कि उन्होंने यह सुनिश्चित करने में विशेष रुचि ली है कि सीएनजी और पीएनजी की कीमतें कम हों। मोइली ने कहा मुझे लगता है कि मुझे उनकी अज्ञानता पर दया करनी चाहिए। उन्हें पता होना चाहिए सरकार कैसे चलती है, कैसे काम होता है..मैंने यह सुनिश्चित करने में विशेष रुचि ली कि सीएनजी और पीएनजी की कीमतें घटें। आपको ये पता होना चाहिए।

मोइली गैस मूल्य निर्धारण के मामले में अपने, पूर्व पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा, उद्योगपति मुकेश अंबानी और अन्य पर गैस मूल्य निर्धारण मामले में आपराधिक मामला दर्ज करने की मुख्यमंत्री केजरीवाल की आज की घोषणा पर प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे थे।

केजरीवाल ने आज संवाददाताओं को बताया कि दिल्ली सरकार की भ्रष्टाचार-निरोधक शाखा (एसीबी) से पूर्व मंत्रिमंडल सचिव टीएसआर सुब्रमणियन, पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिल आरएच ताहिलयानी, जानी-मानी वकील कामिनी जायसवाल और पूर्व व्यय सचिव ईए सरमा की इस मामले में मिली शिकायत पर जांच करने के लिए कहा गया है।

मोइली ने कहा कि यह मुकेश या देवड़ा का सवाल नहीं है..कीमत तय करने की निश्चित प्रणाली होनी चाहिए। मुझे लगता है कि बिना विशेषज्ञों की राय अथवा उपलब्धता को देखे बगैर कुछ नहीं किया जाता। उन्होंने कहा कि केजरीवाल को लगता है कि हम तेल वैसे ही निकाल सकते हैं जैसे कुएं से बाल्टी में पानी निकाला जाता है।

मोइली ने कहा कि हम तेल वैसे नहीं निकाल सकते। मंत्री ने कहा कि भारत 73-75 प्रतिशत पेट्रोलियम उत्पादों का आयात करते हैं, जिसके लिए 165-170 अरब डॉलर से अधिक की जरूरत होती है। मोइली ने कहा यदि वह (केजरीवाल) कुछ धन दे सकते हैं तो मुझे लगता है कि हमें कीमत कम करने में खुशी होगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वीरप्पा मोइली ने केजरीवाल के आरोप का किया खारिज