DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हड़ताल से बैकिंग सेवाएं दूसरे दिन भी ठप

वेतन वृद्धि को लेकर सरकारी और निजी बैंककर्मियों के देशव्यापी हड़ताल के दूसरे दिन मंगलवार को भी उत्तर प्रदेश में बैंकिंग सेवा पूरी तरह ठप रहीं। युनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) के बैनर तले राज्य की करीब 10,000 बैंक शाखाओं के एक लाख सरकारी और निजी बैंककर्मी हड़ताल पर हैं।

बैंकों की शाखाओं में दूसरे दिन भी ताले लटके रहे हैं। बैंकों में नकदी निकासी, जमा और चेक क्लियरेंस प्रक्रिया बाधित होने से लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बैंककर्मियों के यूनियन नेता बैंक के मुख्यालय के बाहर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

राज्य के विभिन्न शहरों के कई एटीएम में नगदी समाप्त होने की खबरें आ रही हैं। लखनऊ के करीब 200 एटीएम नगदी समाप्त होने या तकनीकी खराबी के चलते बंद पडे़ हैं।

बैंककर्मी करीब 20 फीसदी वेतन वृद्धि की मांग के अलावा बैंकिंग क्षेत्र में सुधार का भी विरोध कर रहे हैं। इन सुधारों में निजीकरण, विलय, निजी कंपनियों को नए बैंक लाइसेंस जारी किया जाना, बढ़ती गैर निष्पादित परिसंपत्तियां तथा अन्य मुद्दे शामिल है ।

यूएफबीयू के संयोजक (उत्तर प्रदेश) वाई. के. आरोड़ा ने कहा कि हड़ताल के पहले दिन सोमवार को उत्तर प्रदेश में करीब 10,000 करोड़ रुपये के चेक का क्लीयरेंस नहीं हो पाया। कमोबेश यही हाल हड़ताल के दूसरे दिन यानी आज भी रहेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हड़ताल से बैकिंग सेवाएं दूसरे दिन भी ठप