DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुकेश, मोइली, देवड़ा पर दर्ज होगी एफआईआरः केजरीवाल

मुकेश, मोइली, देवड़ा पर दर्ज होगी एफआईआरः केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को गैस कीमतों पर मोर्चा खोलते हुए पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री वीरप्पा मोइली, पूर्व मंत्री मुरली देवड़ा और रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख मुकेश अंबानी समेत कई अन्य पर एफआईआर दर्ज कराने की घोषणा की।

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार की भ्रष्टाचार-निरोधक शाखा (एसीबी) से पूर्व मंत्रिमंडल सचिव टीएसआर सुब्रमणियन, पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिरल आरएच ताहिलयानी, जानी-मानी वकील कामिनी जायसवाल और पूर्व व्यय सचिव ईए सरमा की शिकायत पर जांच करने के लिए कहा गया है।

उन्होंने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि आज हमने एसीबी से इस मामले की जांच करने के लिए कहा है। हम मुरली देवड़ा के खिलाफ एक आपराधिक मामला दर्ज कर रहे हैं। मोइली, मुकेश अंबानी, हाइड्रोकार्बन महानिदेशालय के पूर्व प्रमुख वीके सिब्बल, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दायर की जा रही है।

शिकायत का हवाला देते हुए केजरीवाल ने कहा कि गैस की कीमतों में बढ़ोतरी से आरआईएल को 54,000 करोड़ रुपए सालाना का मुनाफा कमाने में मदद मिलेगी। उन्होंने आरोप लगाया कैग ने इन तेल-कुओं का लेखा परीक्षण किया था और अपनी रिपोर्ट में कहा है कि रिलायंस को समय-समय पर कुल 1.25 लाख करोड़ रुपए का अप्रत्याशित मुनाफा हुआ है।

मुख्यमंत्री ने ठीक लोकसभा चुनाव से पहले प्राकृतिक गैस की कीमत दोगुनी करने की पहल पर भी सवाल उठाया। केजरीवाल ने कहा हमारा मानना है कि मुद्रास्फीति भ्रष्टाचार के कारण बढ़ रही है। हमें भ्रष्टाचार खत्म करने के लिए सख्त कदम उठाने होंगे। यह हमारे लिए निर्णायक लड़ाई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार के पास जो शिकायत की गई है उसमें लागत पत्र भी है जिसके मुताबिक आरआईएल को दिए गए तेल-कूपों से गैस उत्पादन की लागत एक डालर प्रति एमएमबीटीयू से भी कम पड़ती है। केजरीवाल ने कहा कि आरआईएल ने केजी-डी6 क्षेत्र से 2.3 डॉलर प्रति इकाई की दर से गैस देने का 2000 में अनुबंध किया था।

केजरीवाल ने कहा कि लेकिन थोड़े दिन बाद उन्होंने अपना रख बदल दिया और कुछ मंत्रियों के साथ मिली-भगत से गैस की कीमत चार डॉलर प्रति इकाई करा दिया, लेकिन लालच खत्म नहीं हुआ। इस शिकायत में ये आरोप लगाए गए हैं। मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि उत्पादन लागत बढ़ाने के बावजूद आरआईएल ने अधिक गैस का उत्पादन नहीं किया, ताकि वे सरकार को और ब्लैकमेल कर सकें।

उन्होंने दावा किया उन्हें आठ करोड़ इकाई गैस का उत्पादन करना था, लेकिन उनका उत्पादन उसका 18 प्रतिशत ही रहा। इससे बनावटी कमी पैदा हुई गैस का आयात बढ़ा जिसके कारण देश में महंगाई बढ़ी। केजरीवाल ने शिकायत का हवाला देते हुए कहा कि सरकार की गैस की कीमत बढ़ाने की दलील गैस की अंतरराष्ट्रीय कीमत पर आधारित है न कि अस्वीकार्य उत्पादन लागत पर।

केजरीवाल ने कहा कि मूल बात यह है कि वे कीमत बढ़ाने का कोई तरीका ढूंढ रहे थे। शिकायत में यह भी आरोप लगाया गया है कि इस परियोजना में रिलायंस की भागीदार निको अभी भी बांग्लादेश को 2.34 डॉलर प्रति इकाई पर गैस प्रदान कर रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुकेश, मोइली, देवड़ा पर दर्ज होगी एफआईआरः केजरीवाल