DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हेयर स्टाइलिस्ट: बालों के कारीगर

हेयर स्टाइलिस्ट: बालों के कारीगर

अगर लोगों के बाल संवारने में आपको मजा आता है तो आप हेयर स्टाइलिस्ट का करियर चुन सकते हैं। इस क्षेत्र में अच्छे प्रोफेशनल्स की मांग निरंतर बढ़ रही है। इस करियर के बारे में बता रही हैं रुचि गुप्ता।

हेयर स्टाइलिस्ट न सिर्फ कंघी और कैंची के सहारे बालों को काटते हैं, बल्कि उन्हें एक फिनिश लुक देने के लिए इलेक्रिकल उपकरणों की मदद से बालों को सेट करने के अलावा उन्हें रंगने, कंडीशन करने जैसे प्रोफेशनल काम भी करते हैं। इस क्षेत्र में एक जाना-माना नाम बनने के लिए जरूरी है कि आपको बालों के विभिन्न प्रकारों, उनकी जरूरतों और उनके लिए जरूरी उपचारों की गहन जानकारी हो। इसके लिए माना जाता है कि आपको रसायन और कॉस्मेटिक्स दोनों की अच्छी जानकारी होनी चाहिए।

जहां एक तरफ भारतीय हेयर स्टाइलिंग एवं प्रोडक्ट्स का बाजार 25 प्रतिशत की तेज रफ्तार से बढ़ रहा है, वहीं इस बाजार को भुनाने के लिए कई अंतरराष्ट्रीय ब्रांड भी यहां अपनी मौजूदगी दर्ज करा रहे हैं। ऐसे में प्रोफेशनल या स्किल्ड लोगों की मांग काफी तेजी से बढ़ रही है।

क्या हों खूबियां
आप रचनात्मक हों और प्रयोग करने में विश्वास रखते हों
आप को चेहरे के आकार के अनुसार उन पर कैसा हेयरस्टाइल अच्छा लगेगा, इसकी जानकारी होनी चाहिए। साथ ही आप में किसी को हेयरस्टाइल देने से पहले उसे विजुअलाइज करने की क्षमता भी होनी चाहिए।
अपने काम में अच्छा होने के अलावा आपका व्यवहार मित्रतापूर्ण होना चाहिए।
नए उपचारों और प्रयोगों को सीखने के लिए आपको हमेशा तैयार रहना चाहिए।
फैशन और कला की समझ के साथ आपको इस पेशे में आगे बढ़ने में मदद मिलेगी।

कहां हैं संभावनाएं
आप किसी हेयर डिजाइन सैलून में बतौर ट्रेनी काम पा सकते हैं। इसके अलावा कई हेल्थ क्लब और फिटनेस सेंटर्स के भी सैलून होते हैं। आप किसी अच्छे होटल या स्पा के सैलून में भी काम पा सकते हैं।
आप किसी फैशन हाउस या फैशन पत्रिका के लिए इन-हाउस कर्मी के रूप में काम कर सकते हैं, जहां लगभग रोज फोटो शूट्स होते हों।
फिल्म उद्योग को सेवाएं देने वाले ब्यूटी कंसल्टेंट के साथ काम कर सकते हैं।
अपना सलॉन खोलने के अलावा फ्रीलांस हेयर स्टाइलिस्ट का काम शुरू कर सकते हैं।

वेतन 
खुद का काम एक बढिया विकल्प है, लेकिन करियर की शुरुआत आप किसी दूसरे के साथ अनुभव हासिल करने से करें। आज किसी भी फ्रेशर को बतौर ट्रेनी एक स्थानीय पार्लर में 7 से 10 हजार रुपये प्रति माह तक वेतन मिल सकता है। वहीं अगर आप किसी अंतरराष्ट्रीय ब्रांड के सलॉन के साथ काम करते हैं तो वेतन लगभग दोगुना यानी 15 से 20 हजार रुपये तक हो सकता है। अनुभव के साथ वेतन भी बढ़ता है। जिन पेशेवर हेयर स्टाइलिस्ट्स के पास 3 से 5 साल का अनुभव है, वे आसानी से 50 हजार रुपये प्रति माह तक पा सकते हैं।

कैसे करें शुरुआत
इस क्षेत्र में आने के लिए कम से कम 12वीं पास होना आवश्यक है। हालांकि हमारे देश में अभी तक हेयरस्टाइलिंग के लिए कोई डिग्री कोर्स उपलब्ध नहीं है, बावजूद इसके कई नामी सलॉन या संस्थान हैं, जो इस हेयर स्टाइलिंग या डिजाइनिंग में सर्टिफिकेट या डिप्लोमा कोर्स मुहैया करा रहे हैं। इनमें जावेद हबीब, शहनाज हुसैन, भारती तनेजा, वंदना लूथरा और नलिनी व यास्मिन जैसे बड़े नाम शामिल हैं, जिनकी खुद की एकेडमी है और 1 माह से लेकर 1 साल तक का पाठ्य़क्रम सिखा रहे हैं।

पाठय़क्रम
सर्टिफिकेट कोर्स इन बेसिक हेयर स्टाइलिंग, 2 माह
सर्टिफिकेट कोर्स इन हेयर ट्रीटमेंट, 15 दिन
सर्टिफिकेट कोर्स इन हेयर डिजाइनिंग, 2 माह
डिप्लोमा इन हेयर इंटेंसिव, 3 माह
डिप्लोमा इन हेयर डिजाइनिंग, 4 माह
साइंटिफिक अप्रोच टू हेयर डिजाइनिंग, 8 सप्ताह
पीजी डिप्लोमा इन ब्यूटी हेयर एंड मेकअप, 12 माह
एडवांस सर्टिफिकेट कोर्स इन हेयर डिजाइनिंग, 2 माह
हेयर पार्ट टाइम कोर्स, 12 सप्ताह
हेयर क्रैश कोर्स, 6 सप्ताह

फीस
हेयर स्टाइलिंग से जुड़े पाठय़क्रम जहां अवधि के लिहाज से 1 माह से लेकर 1 साल तक के होते हैं, वहीं इसके बेसिक पाठ्य़क्रम की फीस 15 हजार रुपये से शुरू होती है। किसी पॉलिटेक्निक से कोर्स करने के लिए जहां आपको 1 वर्ष के कोर्स के लिए 40 हजार रुपये खर्च करने पड़ सकते हैं, वहीं किसी नामी संस्थान में इस कोर्स की फीस 1.25 लाख रुपये से शुरू होती है।

एक्सपर्ट्स व्यू/जावेद हबीब
हेयर स्टाइलिंग एक कॉरपोरेट की शक्ल ले चुकी है..

बालों के जरिए अगर किसी ने देश में अपनी पहचान बनाई है तो वे हैं हेयर स्टाइलिस्ट जावेद हबीब। अपने पिता अहमद हबीब की हेयर स्टाइलिंग की परंपरा को जावेद ने न सिर्फ बरकरार रखा, बल्कि उसे सारे देश में फैलाया। आज जावेद हबीब के देशभर में 322 सैलून और 46 एकेडमी हैं। यहां तक कि एक दिन में 410 नॉन-स्टॉप हेयर कट्स करने के लिए उनका नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्डस में दर्ज है। आइए जावेद हबीब से जानते हैं इस उद्योग जगत के बारे में।

हेयर स्टाइलिंग में कोर्स करने के बाद क्या संभावनाएं हैं?
हेयर स्टाइलिंग आज एक बिजनेस, एक कॉरपोरेट की शक्ल ले चुकी है। पहले सिर्फ हेयर स्टाइलिंग थी, जबकि आज आप एक स्टाइलिस्ट के अलावा पार्लर मैनेजर, कलर कंसल्टेंट, फिल्म, टीवी या मैगजीन में स्टाइलिस्ट आदि का काम पा सकते हैं।

कोर्स के बाद छात्रों को क्या फायदा मिल सकता है?
इस क्षेत्र में ट्रेनी तक को 8 हजार रुपये से ऊपर का वेतन और साथ में कमीशन के अलावा इंसेंटिव्स भी मिल रहे हैं। वहीं आप 6 महीने बाद इसे तीन गुणा तक सीधे-सीधे बढ़ा सकते हैं। मेरा मानना है कि यह एक हार्ड कोर वोकेशनल कोर्स है, जिससे रोजगार तो मिल ही जाता है, पर बाकी वेतन या आय आपकी मेहनत पर निर्भर है।  

फैक्ट फाइल
प्रमुख प्रशिक्षण

हबीब हेयर एकेडमी, दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, हैदराबाद
www.jawedhabib.co.in/academy.html

नलिनी एंड यास्मिन सलॉन प्राइवेट लिमिटेड, मुंबई
http://www.nalini.in/

जूस हेयर एकेडमी, मुंबई
http://juicesalon.in/

शहनाज हुसैन इंटरनेशनल ब्यूटी एकेडमी, दिल्ली
http://www.shahnaz.in/training_institutes.asp#b3

वुमन पॉलिटेक्निक, दिल्ली
http://www.womenpolytechnic. com/beauty-culture-hair-dressing.html 

वीएलसीसी, दिल्ली
http://www.vlccinstitute.com/

भारती तनेजा एल्प्स ब्यूटी एकेडमी, दिल्ली
alpsbeautyacademy.com/

स्प्रैट एकेडमी ऑफ हेयर डिजाइन, बेंग्लुरू
 
नफा-नुकसान
अनुभव के साथ आय में खूब इजाफा किया जा सकता है
नए स्टाइल्स के साथ प्रयोग करने का मौका मिलता है
लोगों की प्रतिक्रियाएं तुरंत मिलती हैं, इसलिए ज्यादा सजग रहने की जरूरत है
जरूरी नहीं कि हर प्रयोग सफल रहे। आपकी नाकामयाबी सिर्फ आपको नहीं, बल्कि क्लाइंट को भी परेशान कर सकती है

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हेयर स्टाइलिस्ट: बालों के कारीगर