DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मांगों को लेकर आंदोलनकारियों के सुर फिर तेज

ऋषिकेश। हमारे संवाददाता। लंबित मांगो को लेकर चिह्नित आंदोलनकारियों के सुर फिर से तेज हो गए है। उन्होंने मुख्यमंत्री से जल्द मांगो के निस्तारण की मांग की है। सोमवार को चिहि्न्त राज्य आंदोलनकारी सिमित ने मुख्यमंत्री को पत्र सौंपकर चिहि्न्त राज्य आंदोलनकारियों को राज्य सेनानी का दर्जा देने, पेंशन, 10 प्रतिशत आरक्षण, सुविधाएं, आश्रितों को नौकरी, दर्ज मुकदमें वापस लेने, छूट देने आदि की मांग की है। मांग करने वालों मे सिमित के केंद्रीय अध्यक्ष जेपी पांडे, डा. अमर सिंह, नरेंद्र गोसाई, कमला पांडे, राजेंद्र रावत, चंद्रावती गौड, हंसराज सैनी आदि शामिल थे।

वहीं उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी संयुक्त संघर्ष समिति ने मुख्यमंत्री से चिह्नित  राज्य आंदोलनकारियों को 10 प्रतिशत क्षैतिज आरक्षण, राज्य निर्माण सेनानी घोषित करने एकसमान पेंशन व सरकार की ओर से राज्य आंदोलनकारियों के संबध में निकाले गए शासनादेशों को लागू कराने की मांग की।

मांग करने वालों में सिमित प्रदेश अध्यक्ष वेदप्रकाश शर्मा, गंभीर सिंह मेवाड, डीएस गुसाईं, विक्रम भंडारी, राजेंद्र प्रसाद डोभाल, बलवीर सिंह नेगी, करण सिंह पंवार, सुनीता सकलानी, मुन्नी ध्यानी, विजय पंत, सुनीता मंमगाई, जयंती नेगी, विश्वेश्वरी भनोडी, महेश्वरी बिष्ट, सरोजनी थपलियाल, प्रेमा नेगी, सुशीला पोखिरयाल आदि शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मांगों को लेकर आंदोलनकारियों के सुर फिर तेज