DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मुख्यमंत्री ने विकास के विजन से किया कायल

विकासनगर/कार्यालय संवाददाता। मुख्यमंत्री हरीश रावत जुड्डो में पहुंचे तो पूरे बदले अंदाज में थे। लखवाड़ व्यासी परियोजना के उद्घाटन के बाद जब मुख्यमंत्री ने राज्य के विकास के लिए जनता के सामने अपना विजन पेश किया तो लोग उनके कायल हो गये। मुख्यमंत्री ने जहां कैबिनेट मंत्री प्रीतम सिंह और विधायक नवप्रभात की मांग पर क्षेत्र के विकास के लिए घोषणाओं की झड़ी लगा दी।

वहीं कहा कि पारंपरिक मंडुवा, झंगोरा की खेती से राज्य के विकास को आगे बढ़ाएंगे। मुख्यमंत्री ने पछवादून प्रेस क्लब के लिए पंद्रह लाख रुपये देने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने जुड्डो में राज्य के विकास का एजेंडा लोगों के बीच रखा। उन्होंने कहा कि मेरा पहला संकल्प राज्य की जवानी और पानी को व्यर्थ नहीं जाने देने का है। कहा कि राज्य के युवाओं को दक्ष युवा बनाऊंगा। यहां के पानी से ऊर्जा पैदा कर उत्तर भारत की सूखी खेती को हरी भरी कर खेतों को लहलहाया जाएगा।

लोगों के सूखे हलक तर करूंगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि पहाड़ में जिन खेतों के फल, फसल को जानवर चौपट कर रहे हैं वहां खडीक भीमल जैसे चारे की पतियां लगाकर पशुपालन को बढ़ावा दिया जाएगा। कहा कि यूपी के महंगे और नकली दूध-मक्खन को नहीं खरीदेंगे। अपने राज्य में दूध और मक्खन का उत्पादन कर खायेंगे। कोदा, झंगोरा, भट्ट, चौलाई, नौरंगी दालें, कौणी, गहथ, तोर, छेमी, मोटा धान बारहनाजा फिर पैदा करेंगे। जब उत्तराखंड के कोदा झंगोरा की डिमांड जापान, जर्मनी, ब्रिटेन, अमेरिका में है तो हम उसे फिर से पैदा कर क्यों नहीं बाहर देशों को बेच सकते हैं।

पारंपरिक धान की खेती को फिर से गांव-गांव में तैयार किया जाएगा। जब सूखे राजस्थान में पानी की बहार बह सकती है, केरल में बिना उद्योग के टूरिज्म बढ़ सकता है तो उत्तराखंड में पानी, जवानी, प्राकृतिक सुंदरता है उसे क्यों नहीं आगे ले जा सकते।

उन्होंने कहा कि गांव गांव को पर्यटन से जोड़ा जाएगा। खेतों तक पानी पहुंचाया जाएगा। इस दौरान मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पछवादून प्रेस क्लब के भवन के लिए खुद दस लाख रुपये और ढाई लाख रुपये कैबिनेट मंत्री प्रीतम सिंह, ढाई लाख रुपये विधायक नव प्रभात की निधि से देने की घोषणा की।

प्रेस क्लब के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री का आभार जताया। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी ज्योति नीरज खेरवाल, एसडीएम मोहन सिंह बर्नियां, चकराता के एसडीएम ललित मोहन मिश्र, सीओ एसके सिंह, जल विद्युत निगम के निदेशक संदीप सिंघल, पुरुषोतम, एसके चौपड़ा, महाप्रबंधक एनके माहेश्वरी, हिमांशु अवस्थी, टीएन भारद्वाज, विनीत सक्सेना, राजीव कुमार अग्रवाल, उप महाप्रबंधक सुनील जोशी, अधिशासी अभियंता सतीश कुमार सिंह, धर्मेद्र सिंह, मनमोहन बलोदी, राजीव अग्रवाल, लोनिवि के अधिशासी अभियंता मुकेश परमार, विद्युत निगम के एमएल टम्टा, स्थानीय जन प्रतिनिधियों कुंवर पाल सिंह, चमन सिंह, संजय किशोर, विपुल जैन, नगर पालिका अध्यक्ष नीरज अग्रवाल, संजय गुप्ता, हिमकर गुप्ता, रोहित पुंडीर, रोशन नेगी, शम्मी प्रकाश, सलीम, इकबाल, मुनीर अहमद, जमशेद अहमद, जितेंद्र रावत, संसार सिंह तोमर, बलजीत सिंह, पं. मुन्नालाल नौटियाल आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मुख्यमंत्री ने विकास के विजन से किया कायल