DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शीला के करीबी मंत्रियों पर भी जांच की आंच

नई दिल्ली। समरजीत सिंह। पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के खिलाफ सीडब्ल्यूजी, जल बोर्ड घोटाला एवं डीटीसी बस खरीद मामलों में जांच के आदेश देने के बाद दिल्ली सरकार अब उनके करीबी मंत्रियों के खिलाफ भी जांच बैठाने की तैयारी कर रही है। सूत्रों की मानें तो इन मंत्रियों को भी कैग की जांच रिपोर्ट के आधार पर ही घेरा जाएगा।

अगले हफ्ते इन नेताओं के खिलाफ जांच के आदेश दिए जा सकते हैं। सूत्रों के अनुसार, जिंन-जिन मामलों में शीला दीक्षित के खिलाफ जांच बैठाई गई है, उन्हीं मामलों में इन मंत्रियों पर भी एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी है। अगले कुछ दिनों में एफआईआर दर्ज कराई जा सकती है।

एफआईआर में मुख्य रूप से स्ट्रीट लाइट घोटाला, जल बोर्ड घोटाला, डीटीसी बस खरीद घोटाला और दिल्ली सरकार के अधीन बनने वाली सड़कों में होने वाले घोटालों का जिंक्र किया जा जाएगा।

साथ ही इन घोटालों में मंत्रियों की भूमिका की भी जांच कराने की तैयारी चल रही है। सूत्रों के अनुसार, पूर्व मुख्यमंत्री के कार्यकाल में हुए घपलों में उस समय के जिन मंत्रियों के खिलाफ जांच कराने की तैयारी की जा रही है उनमें, राजकुमार चौहान और किरण वालिया जैसे दिल्ली कांग्रेस के दिग्गज नेताओं का नाम शामिल हो सकता है।

दिल्ली सरकार की ओर से जांच के लिए बनाई गई कमेटी इन मंत्रियों द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में कराए गए काम, उनपर आने वाले खर्च एवं इन कामों के जारी किए गए फंड आदि बिंदुओं को जांच का आधार बना सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शीला के करीबी मंत्रियों पर भी जांच की आंच