DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दूध में मिलावट पर पांच वर्ष में महज पांच एफआईआर

नोएडा। वरिष्ठ संवाददाता। दूध में मिलावट को रोकने के लिए लेकर सुप्रीम कोर्ट ने चल रहे मामले में प्रदेश सरकार अपना पक्ष 20 फरवरी को रखेगी। इसके लिए गौतमबुद्ध नगर ने भी अपने आंकड़े सरकार को भेजे हैं। पांच वर्षो में दूध के मिलावट से संबंधित पांच लोगों के खिलाफ ही एफआईआर दर्ज कराई गई है।

जनपद में कुल मिलावटी सामानों में 40 प्रतिशत दूध व इसके उत्पाद हैं। बावजूद इसके 2011 से अब तक महज पांच लोगों के खिलाफ एफआईआर कराई गई है। हालांकि इन लोगों पर अब तक फैसला नहीं आया है।

दूध के मिलावट को रोकने को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चल रहे मामले में 20 फरवरी को प्रदेश सरकार को अपना पक्ष रखना है। इसके लिए प्रदेश के आला अधिकारियों के साथ ही जनपद के मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी व खाद्य सुरक्षा अधिकारी भी कोर्ट जाएंगे।

प्रत्येक वर्ष दिवाली, होली व रक्षाबंधन में दूध व इसके उत्पादों में मिलावट की जाती है। खाद्य विभाग प्रत्येक वर्ष कार्रवाई की बात करता है, लेकिन मिलावट कम नहीं हो रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दूध में मिलावट पर पांच वर्ष में महज पांच एफआईआर