DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ग्रेटर नोएडा व यमुना में महंगी होगी जमीन

ग्रेटर नोएडा। हमारे संवाददाता। ग्रेटर नोएडा व यमुना प्राधिकरण बजट में 10 से 15 फीसदी इजाफा करने जा रहे हैं। जमीन अधिग्रहण के बदले मुआवजा और प्राधिकरण से आवंटित किए जाने वाले विभिन्न श्रेणी के प्लॉटों की कीमतों में भी बढ़ोतरी की जाएगी। ग्रेटर नोएडा में बीते दिनों सुलझाए गए किसानों के आबादी मामलों पर भी मोहर लगाई जाएगी। इससे 27 गांवों के करीब 300 किसानों को लाभ होगा।

यमुना प्राधिकरण का चालू वित्त वर्ष के लिए 3,000 करोड़ रुपये का बजट था। इस रकम का बहुत बड़ा हिस्सा प्राधिकरण खर्च ही नहीं कर पाया है। जमीन अधिग्रहण के खिलाफ किसानों की याचिकाओं पर हाईकोर्ट के स्थग्नादेशें की वजह से किसान प्राधिकरण को निर्माण कार्य नहीं करने दे रहे हैं।

इसके बावजूद प्राधिकरण ने आगामी वित्त वर्ष के लिए वार्षिक बजट करीब 3,500 करोड़ रुपये करने की तैयारी पूरी कर ली है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने भी बीते वर्ष के बजट की तुलना में करीब 12 फीसदी की बढ़ोतरी करने की तैयारी पूरी कर ली है।

प्राधिकरण का बीते वर्ष का वार्षिक बजट 4,500 करोड़ रुपये था। इसे बढ़ाकर इस बार करीब 5,000 करोड़ तक किए जाने की तैयारी है। प्राधिकरण अफसरों की कमेटी ने 27 गांवों में आबादी के करीब 12,00 मामलों को सुना था। इनमें करीब 300 मामले जो सही पाए गए थे उन्हें सुलझा लिया गया था। इन सभी मामलों पर भी बोर्ड में मोहर लगाई जाएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ग्रेटर नोएडा व यमुना में महंगी होगी जमीन