DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सप्ताह के व्रत-त्योहार (11 फरवरी से 17 फरवरी तक)

11 फरवरी (मंगलवार) भीष्म द्वादशी। सोमपद द्वादशी। वेदारम्भ में अनध्याय। भीष्मोद्देश्य से तर्पण श्रद्ध। तिल द्वादशी। तिलोत्पत्ति। तिल स्नान। तिल होम। तिल नैवेद्य। तिल से श्री विष्णु पूजा।
12 फरवरी (बुधवार) प्रदोष व्रत। रेगिस्तान मेला-3 दिन (जैसलमेर)। कल्पादि त्रयोदशी। सूर्य की कुंभ संक्रांति रात्रि 2 बज कर 13 मिनट पर।
13 फरवरी (गुरुवार) संक्रांति का पुण्य काल प्रात: 8 बज कर 37 मिनट तक। श्री जिनेंद्र रथयात्रा (जैन)। सौर फाल्गुन मास आरंभ।
14 फरवरी (शुक्रवार) स्नान-दान आदि की माघी पूर्णिमा। संत रविदास जयंती।
15 फरवरी (शनिवार) फाल्गुन कृष्ण पक्ष प्रारंभ। इष्टि।
16 फरवरी (रविवार) त्र्यह स्पर्श (जिथि की वृद्धि)। ईस्टर रविवार के 43 दिन पूर्व का रविवार (ईसाई)।
17 फरवरी (सोमवार) भद्रा (करण) रात्रि 9 बज कर 44 मिनट से आरंभ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सप्ताह के व्रत-त्योहार (11 फरवरी से 17 फरवरी तक)