DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उमरा वीजा 30 दिन का, रह सकेंगे सिर्फ 15 दिन

 कानपुर। वरिष्ठ संवाददाता।  उमरा (हज के इतर मक्का-मदीना की जियारत) की धार्मिक यात्रा पर जाने वालों को सऊदी सरकार 30 दिन का वीजा दे रही है। हालांकि, वहां रुकने के लिए केवल 15 दिन की मोहलत दी जाएगी। साथ ही यह शर्त भी जोड़ी गई है कि बिना होटल बुकिंग के उमरा पर नहीं जा सकेंगे।

सऊदी अरब में होटल उद्योग ने बड़ा रूप ले लिया है। जायरीन (धार्मिक यात्री) को ध्यान में रखकर होटल तैयार किए गए हैं। दूसरी वजह उन लोगों को रोकना है जो उमरा वीजा पर जाकर वहीं रुक जाते हैं। नए नियम से उन लोगों की परेशानी बढ़ गई है जो उमरा करने सऊदी जाते थे, तो होटल के स्थान पर अपने अजीजों या परिचितों के यहां ठहरते थे। मार्च से आएगी तेजी : मार्च से उमरा पर जाने वालों की संख्या बढ़ेगी।

रमजान के महीने में सर्वाधिक लोग उमरा पर जाते हैं जिसकी बुकिंग अभी से चल रही है। तीन महीना पहले ही इसकी बुकिंग पूरी हो जाती है। अवध टूर्स के संचालक शारिक अल्वी का कहना है कि सऊदी में होटल इण्डस्ट्री के दबाव में कई बदलाव आ रहे हैं। इससे आने वाले समय में हज व उमरा और महंगा हो जाएगा। विकल्प तलाशा : सऊदी सरकार ने होटल बुकिंग को अनिवार्य तो बना दिया है लेकिन इसका पालन करवा पाना मुश्किल है।

ऐसे में वे लोग जो अजीजों या दोस्तों के साथ ठहरना चाहते हैं, दो दिन की होटल बुकिंग दिखाकर वीजा और टिकट करा रहे हैं। एक अन्य नियम के अनुसार सऊदी सरकार ने उमरा पर आने वालों पर निगाह रखने के लिए केवल उन एजेंसियों को ही अनुमति दी है जिनका सऊदी में यात्रियों को लेकर समझौता है। इनका काम यात्रियों को समय पर लौटाना है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उमरा वीजा 30 दिन का, रह सकेंगे सिर्फ 15 दिन