DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ब्रज प्रांत में आरएसएस करेगा शाखाओं का विस्तार

 आगरा, मनोज मिश्र। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत शाखाओं की कमी से चिंतित हैं। उन्होंने ब्रज प्रांत में शाखाओं का विस्तार करने का फैसला लिया है। ब्रज प्रांत के 22 जिलों में जल्द ही 300 शाखाएं शुरू हो जाएंगी। इनमें सबसे ज्यादा अकेले आगरा जिले में ही 150 शाखाओं को शुरू किया जाएगा।

यही नहीं पहली बार शाखाओं में आने वाले स्वयंसेवकों की टोलियां बनाकर घर-घर भेजने की भी रणनीति बनाई जा रही है। आगरा में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के प्रवास के दौरान इस तरह की चर्चाएं हुईं हैं। उन्होंने दक्षिण भारत में शाखाओं की संख्या बढ़ने को अच्छा बताया। वहीं ब्रज प्रांत में शाखाओं की कमी पर चिंता जाहिर की। अब संघ इस क्षेत्र में शाखाओं की संख्या बढ़ाएगी। इस बार शाखाओं में कुछ गतिविधियों को भी बढ़ाया जाएगा। प्रति वर्ष वार्षिक उत्सव कराए जाएंगे।

टोलियां बनाकर उन्हें घर-घर तक भेजकर लोगों को जोड़ने, सप्ताह, पाक्षिक और मासिक बैठकें करने की भी योजना बनाई जा रही है। शाखाओं में आने वाले स्वयंसेवकों के मिलन के कार्यक्रम भी होंगे। शाखाओं को फिर नए कलेवर में लाने के लिए जल्द प्रचारकों को अलग-अलग जिम्मेदारी देकर निर्देशित कर दिया गया है। इसके लिए 16 से 23 फरवरी तक पूरे देश में प्रत्येक शाखा में सुबह और शाम के समय प्रार्थना सप्ताह का आयोजन किया जाएगा। प्रवासी कार्यकर्ता को मिला लक्ष्यप्रवासी कार्यकर्ताओं को भी लक्ष्य दिया गया है।

ये कार्यकर्ता संगठन के लिए काम करने के लिए गतशिील होंगी। इससे ये लोग स्वयं सेवकों को सक्रिय कर सकेंगे। साथ ही ग्राम विकास, गो संवर्धन, धर्म जागरण, कुटुंब प्रबोधन, सामाजिक सद्भाव और समरसता पर भी विशेष रूप से काम किया जाएगा। ब्रज प्रांत में आगरा, अलीगढ़ और बरेली मंडल के 22 जिले आते हैं। इन सभी में शाखाओं की संख्या बढ़ाई जाएगी। नई गतविधिियां भी शुरू होंगी। टोलियों में शामिल स्वयं सेवकों के घर-घर तक जाने से लोगों से जुड़ाव होगा।

इससे स्वयं सेवकों की सक्रियता भी बढ़ेगी। दिजेश जी, ब्रज प्रांत प्रचारकशाखाओं की स्थितिक्षेत्र चल रहीं नई शुरू होंगीब्रज प्रांत 900 1200आगरा 350 500।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ब्रज प्रांत में आरएसएस करेगा शाखाओं का विस्तार