DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महंगे तोहफे लेना भी होगा भ्रष्टाचार

महंगे तोहफे लेने वाले सरकारी कर्मचारी सावधान हो जाएं। ऐसा करने पर उन्हें जेल की हवा खानी पड़ सकती है। भ्रष्टाचार पर कड़ा रुख अपनाते हुए केंद्र सरकार भ्रष्टाचार निवारण कानून में संशोधन करने जा रही है। इसके तहत सरकारी कार्मिकों के लिए अब महंगे तोहफे लेना भी भ्रष्टाचार माना जाएगा।

भ्रष्टाचार निवारण कानून के मौजूदा प्रावधानों के तहत सरकारी कार्मिकों का महंगा तोहफा लेना भ्रष्टाचार के दायरे में नहीं आता है। हालांकि पहले यह भ्रष्टाचार माना जाता था। लेकिन भ्रष्टाचार निरोधक कानून में 1964 में हुए संशोधन में इस प्रावधान को हटा दिया गया। लेकिन अब इस प्रावधान को वापस जोड़ने का फैसला किया जा रहा है। इसके तहत यदि सरकारी कर्मचारी स्वयं या अपने परिजनों के लिए महंगा तोहफा लेता है तो यह भ्रष्टाचार कहलाएगा। कार्मिक एवं लोक शिकायत, विधि और न्याय संबंधी संसदीय समिति ने केंद्र के इस कदम को हरी झंडी दी है।

इसी सत्र में पारित हो सकता है विधेयक: भ्रष्टाचार के खिलाफ जिन छह विधेयकों का जिक्र राहुल गांधी ने किया है उसमें यह भी शामिल है। यदि संसद चली तो इसी सत्र में यह विधेयक पारित हो जाएगा।

दस साल तक की सजा: अभी 2 से 7 साल की सजा का प्रावधान है जिसे बढ़ाकर न्यूनतम 3 साल से बढ़ाकर दस साल किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महंगे तोहफे लेना भी होगा भ्रष्टाचार