DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इश्क कीजै, फिर समझिए जिंदगी क्या चीज है

प्यार एक प्रेरणा है, जो इंसान को कुछ कर गुजरने की हिम्मत देता है। जब व्यक्ति प्यार में होता है तो शरीर में ऐसे हार्मोन स्रावित होते हैं, जो इंसान को नया जोश, खुशी और रचनात्मकता से भर देते हैं। ये हार्मोन हमारे तन, मन और बुद्धि के विकास को भी प्रभावित करते हैं। शोध कहते हैं कि जो इंसान प्यार में होते हैं वो दूसरे लोगों की तुलना में अधिक ऊर्जावान, तनावमुक्त और सामाजिक होते हैं। प्यार महज किसी व्यक्ति तक सीमित नहीं है, यह जिंदगी की ऊर्जा है, उसकी दशा और दिशा है, वेलेंटाइन के मौके पर बता रहे हैं मोटिवेशनल स्पीकर राकेश जैन 

प्यार क्या एक इंसान की उपलब्धियों और सफलता को भी प्रभावित करता है? अगर इतिहास में देखें तो जवाब हां होगा। कई उदाहरण हैं जब प्यार ने व्यक्ति की सफलता को नई ऊंचाइयां दी हैं। चाहे वह शाहजहां और मुमताज का प्यार ताजमहल के रूप में हो या फिर नोबल पुरस्कार विजेता जोड़ी पियरे क्यूरी और मैरी क्यूरी के प्यार की प्रेरणा से सृजित रेडियोएक्टिविटी का सिद्धांत। तुलसीदास और कालिदास का जीवन भी इससे अछूता नहीं है। कभी एक सफल प्यार तो कभी प्यार की पीड़ा इंसान की प्रेरणा बनी है। आखिर प्यार की इस शक्ति के पीछे का राज क्या है? जिंदगी में कुछ भी करने के लिए ऊर्जा और उत्साह की जरूरत होती है। ये ऊर्जा प्रेरणा से उत्पन्न होती है। जब व्यक्ति कुछ करने के लिए प्रेरित होता है तो उसका अंतर्मन  ऐसी ऊर्जा पैदा करता है कि कामयाबी हासिल करना फिर मुश्किल नहीं रह जाता।

जिंदगी में प्रेरणा के कई स्रोत हो सकते हैं। कहीं ये प्रेरणा पैसे से आती है तो कहीं सत्ता की चाह से। प्यार भी ऐसी ही एक प्रेरणा है, जो व्यक्ति को कुछ करने की हिम्मत देता है। यह सिद्ध हो चुका है कि जब  इंसान प्यार में होता है तो उसके शरीर में ऐसे हार्मोन पैदा होते हैं, जो उसमें एक नया जोश, खुशी और रचनात्मकता भर देते हैं। ये हार्मोन तन, मन व बुद्धि के विकास को भी प्रभावित करते हैं। 

प्यार को प्रेरणा बनाना सीखें
हर व्यक्ति प्यार की इस शक्ति को अपनी प्रेरणा बना सकता है। जरूरत है तो बस प्यार के एहसास को बेहतर ढंग से समझने की। ऐसे लोगों की भी कमी नहीं जो महज शारीरिक आकर्षण में उलझकर रह जाते हैं। प्यार का एहसास दिमाग और मन से भी जुड़ा है। शोध भी साबित करते हैं कि इंसान शारीरिक सुंदरता से आकर्षित हो सकता है, पर केवल उसके आधार पर प्यार नहीं करता। प्यार के लिए उस आकर्षण का दिमाग और मन से मेल खाना जरूरी है। जब ये आकर्षण व्यक्ति की इच्छाओं, भावनाओं और कल्पनाओं से मेल खाता है तब व्यक्ति में पाने की असली चाह उत्पन्न होती है।

प्रोफेशनल सफलता भी कुछ ऐसी ही प्रक्रिया का परिणाम है। पहले इंसान एक ऐसे लक्ष्य की तरफ आकर्षित होता है, जो उसे अच्छा लगता है। फिर जब वह लक्ष्य उसकी भावनाओं और कल्पना से मेल खाता है तो उसमें उस लक्ष्य को हासिल करने की प्रेरणा मिलती है। तभी उसमें ऊर्जा का संचार भी होता है। यदि लक्ष्य आसान है तो वह दीर्घकालिक प्रेरणा नहीं बन पाता, पर अगर लक्ष्य कठिन है तो वो न सिर्फ उस व्यक्ति की, बल्कि कई लोगों की प्रेरणा का स्रोत बन जाता है। चांद पर जाने का लक्ष्य एक व्यक्ति ने किया था, पर यह इतना मुश्किल था कि सिर्फ एक इंसान की अपनी कोशिश और ऊर्जा से उसे हासिल करना संभव नहीं था। इस लक्ष्य से बहुत से लोग प्रेरित हुए और अपनी ऊर्जा से उस लक्ष्य को सफल बनाया। हम भी अपनी जिंदगी में प्यार को एक प्रेरणा के रूप में समझ कर सफलता कि नयी ऊंचाइयां छू सकते हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इश्क कीजै, फिर समझिए जिंदगी क्या चीज है