DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आत्मविश्वास लाएं, मित्र भी बन जाएंगे

मुझे पता है, रूप-रंग अपने हाथ में नहीं होता। पर इस वजह से अब मैं बहुत निराश रहने लगा हूं। मैं औसत से कम कद और शक्ल का हूं। इस वजह से शुरू से मेरा मजाक उड़ाया गया। मैं जिस दफ्तर में काम करता हूं, वहां भी सहकर्मी मेरे साथ ज्यादती करते हैं। शादी के लिए लड़कियां मुझे रिजेक्ट कर देती हैं। मन करता है कि किसी से न मिलूं। आत्मविश्वास भी कम हो रहा है। कुदरत ने मेरे साथ ऐसा क्रूर मजाक क्यों किया है?
ज्योति कुमार, गोरखपुर


उत्तर: आपके हाथ-पांव, शरीर सही-सलामत हैं। आप पढ़े-लिखे और नौकरी पेशा हैं। फिर भी आपको शिकायत है कि आपके साथ क्रूर मजाक हुआ है? रूप-रंग और दूसरी बातें जीन्स से तय होती हैं। फिर आप इसे लेकर इतना परेशान क्यों हैं? एक चीज जो आपके हाथ में, जो आप बदल सकते हैं, वो है आपका स्वभाव। अगर आप लोगों के बीच रहना चाहते हैं तो मिलनसार, मददगार और मृदुभाषी बनिए। अपना मानसिक स्तर बढ़ाइए, खूब पढ़िए, ज्ञान बढ़ाइए, इस तरह कि लोग आपसे आगे बढ़ कर बात करने आएं। एक बार जब आपके अंदर आत्मविश्वास आ जाएगा, अपने आप मित्र भी बनेंगे और जीवनसाथी भी मिलेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आत्मविश्वास लाएं, मित्र भी बन जाएंगे