DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काशी बांचेगी ‘गूगल ब्वाय’ कौटिल्य पंडित का भविष्य

काशी बांचेगी ‘गूगल ब्वाय’ कौटिल्य पंडित का भविष्य

चमत्कृत कर देने वाली प्रतिभा के चलते देश-दुनिया में ‘गूगल ब्वाय’ के नाम से चर्चित कौटिल्य पंडित का भविष्य काशी के ज्योतिषी बताएंगे। छह वर्षीय कौटिल्य की जन्म तिथि, समय व जन्म स्थान का विवरण ज्योतिषियों को दे दिया गया है। इसके आधार पर वे रविवार को कुंडली तैयार कर फलादेश सुनाएंगे। स्थान होगा ज्योतिष व द्वारिका पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती का केदार घाट स्थित श्री विद्यामठ।

हरियाणा के झंझर जिले में कोहड़ जिले में 24 दिसंबर-07 को जन्मा कौटिल्य शनिवार तीसरे पहर अपने दादा जयकरन शर्मा, पिता सतीश शर्मा और चाचा एसपी गौड़ के साथ काशी पहुंचा। बाबतपुर एयरपोर्ट से सभी सीधे केदार घाट स्थित श्री विद्या मठ पहुंचे।

कौटिल्य के दादा अपने पौत्र के साथ काशी आने का लंबे समय से अवसर खोज रहे थे। इच्छा थी कि काशी में बाबा विश्वनाथ व शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती से आशीर्वाद लिया जाए। संयोग बनाया सनातन धर्म इंटर कॉलेज के शताब्दी वर्ष समारोह ने। कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ. हरेन्द्र राय ने समारोह को अविस्मरणीय बनाने के लिए किसी खास शख्सियत को बुलाना चाहते थे। उन्होंने अपना विचार शंकराचार्य के शिष्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद से साझा किया। स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने ही कौटिल्य को बुलाने का सुझाव दिया। कौटिल्य दादा जयकरन शर्मा ने यह आमंत्रण तत्काल स्वीकार कर लिया।

कौटिल्य परिवार के आने के पहले ही स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने काशी के सुप्रसिद्ध 15 ज्योतिषियों को कुंडली निर्माण और फलादेश के लिए आवश्यक जानकारियां उपलब्ध करा दी थी। इस अवसर के बहाने काशी की विद्वत पताका एक बार फिर राष्ट्रीय-अन्तर्राष्ट्रीय फलक पर फहराएगी। उनके मुताबिक कौटिल्य जैसी प्रतिभा को लेकर हर ओर उत्सुकता है कि यह बड़ा होकर क्या बनेगा, राष्ट्र सेवा में इसका किस प्रकार योगदान होगा! ऐसे कई सवालों को लेकर कौटिल्य के परिजनों ने हमसे विचार-विमर्श किया था। मेरी सलाह व उनकी सहमति के बाद ज्योतिषी रविवार को फलादेश बताएंगे। इस अवसर पर वैदिक विद्वान कौटिल्य को आशीर्वाद भी देंगे। इसके पहले रविवार सुबह कौटिल्य सनातन धर्म इंटर कॉलेज के शताब्दी वर्ष समारोह में शामिल होगा। सोमवार सुबह 10 बजे वह पिता व दादा के साथ केदारघाट पर गंगा स्नान और पूजन करेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:काशी बांचेगी ‘गूगल ब्वाय’ कौटिल्य पंडित का भविष्य