DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भाषण में सोनल अव्वल तो साक्षी द्वितीय

बदायूं। हिन्दुस्तान संवाद। महाविद्यालय में तीन दिनों तक चलने वाले युवा महोत्सव का उद्घाटन शनिवार को प्राचार्य डा. एसपी खरे ने किया। उद्घाटन के मौके पर उन्होंने मां सरस्वती के सामने दीप जलाकर व स्वामी विवेकानंद के चित्र पर माल्यार्पण किया। डा. खरे ने कहा कि स्वामी विवेकानंद का जन्म दिन राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। क्योंकि उनके आदर्श और विचार युवाओं में नई शक्ति और ऊर्जा का संचार कर सकते हैं।

आज के परिदेश्य में देश की युवा शाक्ति को जागृत करना और उन्हें उनके कर्तव्यों का बोध कराना अत्यंत आवश्यक है। कार्यक्रम संयोजिका डा. सुरंगमा यादव ने भी छात्र-छात्राओं को संबोधित किया। इस मौके पर स्वामी विवेकानंद के जीवन दर्शन विषय पर भाषण प्रतियोगतिा हुई। निर्णायक मंडल में डा. आरएस सिंह, डा. मनोज कुमार, डा. दिनेश कुमार, डा. बबिता यादव रहीं। सोनल सक्सेना को पहला, साक्षी पाठक को दूसरा और अश्वनी कुमार को तीसरा विजेता घोषित किया गया। मादक द्रव्यों का सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है और पर्यावरण संरक्षण विषय पर पोस्टर प्रतियोगतिा हुई।

निर्णायक डा. शरद पवार, डा. संजय श्रीवास व शशि प्रभा द्वारा अर्चना राघव को पहला, ललिता सिंह को दूसरा और गाजिया खान को तीसरा विजेता घोषित किया गया। कार्यक्रम का संचालन डा. रजिया परवीन ने किया। कार्यक्रम में डा. एसपी खरे, डा. अनिल कुमार, डा. निदेश कुमार तोमर, डा. प्रीति वाजपेई, डा. बरखा, डा. सारिका शर्मा, डा. पारुल रस्तोगी, डा. पीके शर्मा, डा. राकेश कुमार जायसवाल, डा. नीरज कुमार आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भाषण में सोनल अव्वल तो साक्षी द्वितीय