DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवकाश प्राप्त शिक्षकों को किया गया सम्मानित

 कसया। हिन्दुस्तान संवाद। अवकाश प्राप्त शिक्षकों की विदाई के लिए शनिवार को बुद्ध इण्टर कालेज कुशीनगर में समारोह का आयोजन किया गया। इस दौरान अवकाश प्राप्त चार शिक्षकों को सम्मानित करते हुए उन्हें विदाई दी गई। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिक्षक विधायक ध्रुव नारायण मणि त्रिपाठी उपस्थित रहे। मुख्य अतिथि श्री त्रिपाठी ने कहा कि शिक्षक राष्ट्र का निर्माता होता है और शिक्षकों के कंधों पर समाज को सही दिशा देने की जिम्मेदारी होती है।

उन्होंने कहा कि शिक्षकों का परशि्रम कभी व्यर्थ नही होता है। छात्रों को समय का सदुपयोग करने की सीख देते हुए उन्होंने कहा कि दुनिया तेज गति से आगे बढ़ रही है। वर्तमान परविेश में शिक्षा का व्यवसायीकरण हो चुका है। लेकिन यह राष्ट्रहित में नहीं है। उन्होंने कहा कि इसे नकाराना होगा ताकि शिक्षा सबको सुगमता से मिल सके। शिक्षकों के हित की बात करते हुए शिक्षक विधायक ने कहा कि शिक्षकों के नियमितीकरण व पेंशन योजना के लिए सरकार से आश्वासन मिल चुका है।

पूर्व प्रधानाचार्य शविदत्त नारायण सिंह की अध्यक्षता में आयोजित कार्यक्रम का संचालन शिक्षक संघ के अध्यक्ष उमेश उपाध्याय ने किया। इससे पूर्व पूजा मिश्रा ने अपनी सहेलियों के साथ सरस्वती वंदना प्रस्तुत किया, वहीं जगदीप सिंह ने स्वागत गीत गाया। इसके बाद मुख्य अतिथि व कालेज के प्रधानाचार्य डा. रितेश चौधरी ने सेवानिवृत्त शिक्षक सतीश मणि त्रिपाठी, गोविन्द राज पाण्डेय, रामदयाल पटेल व सुरेन्द्र प्रसाद चन्द को सम्मानित किया। इस दौरान सतीश मणि त्रिपाठी ने घोषणा की कि शिक्षक दिवस पर प्रतविर्ष होनहार छात्रों के लिए पांच हजार रुपए देंगे।

कार्यक्रम में वशििष्ट अतिथि श्रीप्रकाश चौबे, रामनगीना यादव, प्रयाग चतुर्वेदी, वलिन्द्र सिंह, रामअशीष शुक्ल, रामनगीना यादव, लालबहादुर, विद्यासागर मिश्र, महेन्द्र पाण्डेय, यशवन्त सिंह, वेद प्रकाश मिश्र, कल्पनाथ सिंह, कुसुमलता द्वविेदी, संगीता श्रीवास्तव, सुरेश प्रसाद गुप्त आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अवकाश प्राप्त शिक्षकों को किया गया सम्मानित