DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महाविद्यालय महासंघ से मिले कृषि मंत्री योगेंद्र साव

रांची। संवाददाता। राजभवन के सामने तीन दिनों से आमरण अनशन पर बैठे संबद्ध डिग्री महाविद्यालय महासंघ से शनिवार को कृषि मंत्री योगेंद्र साव मिले। उन्होंने अनशनकारियों से आमरण अनशन तोड़ने की अपील की। कहा कि शनिवार को कैबिनेट में औपचारिक रूप से इस मुद्दे पर चर्चा हुई। शिक्षामंत्री गीताश्री उरांव के दिल्ली से लौटने के बाद 12-13 फरवरी तक अंतिम निर्णय लिया जाएगा। वहीं सीपी सिंह ने महाविद्यालय महासंघ की मांगों का समर्थन करते हुए कहा कि 23 दसिंबर 2011 को विधानसभा में इस मुद्दे पर व्यापक चर्चा होने के बाद भी कैबिनेट में नहीं लाया गया।

ऐसा करके सरकार संबद्ध डिग्री शिक्षकों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है। इसी बीच झारखंड बंगभाषी समिति ने आमरण अनशन पर बैठे महासंघ का समर्थन किया। अनशन पर बैठे 11 में 4 लोगों की हालत बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ये पिछले 52 दिनों से हड़ताल पर है। 4 अनशनकारियों की हालत बिगड़ीआमरण अनशन पर बैठे 11 में चार लोगों की हालत बिगड़ गई। मो नदीम, महाबीर प्रसाद कुशवाहा, बिनोद कुमार द्वविेदी और संजय कुमार केसरी को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

अन्य लोगों की भी हालत बिगड़ रही है। महासंघ अध्यक्ष ने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस और अस्पताल कर्मी मरीजों के साथ दोहरा व्यवहार कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महाविद्यालय महासंघ से मिले कृषि मंत्री योगेंद्र साव