DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नीतीश सरकार में अल्पसंख्यको के लिए स्थिति असहज

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो।  प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अल्पसंख्यक नेताओं ने अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री शाहिद अली खां पर लगे आरोपों की जांच कराने की मांग की है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस मामले में जनता को वस्तुस्थिति से अवगत कराने का आग्रह किया है। कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया है कि इस मामले में पुलिस मुख्यालय का रुख अल्पसंख्यकों को संदेह में डालने वाला प्रतीत होता है। प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष जमाल अहमद भल्लू, कौकब कादरी, शकीलुर रहमान, महासचवि तनवीर अख्तर, आसिफ गफूर, मजरूल हक अंसारी, प्रवक्ता सरवत जहां फातिमा ने अपने संयुक्त बयान में कहा कि इस मामले में पुलिस मुख्यालय का स्टैंड गैरजिम्मेदाराना रहा है।

कांग्रेस की नजर में यह एक गंभीर मामला है तथा आम जनता को सच्चाई जानने का पूरा हक है। कांग्रेस यह भी चाहेगी कि इस बात की भी जांच हो, आखिर ऐसे संवेदनशील मामले में एसएसबी की रिपरेट तथा पुलिस मुख्यालय की भूामिका से संबंधित कागजात मीडिया को कैसे हाथ लगी ? कांग्रेस के अल्पसंख्यक नेताओं ने इस मामले में पुलिस मुख्यालय के रवैये को अल्पसंख्यक विरोधी बताते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस संबंध में स्थिति को स्पष्ट करने की मांग की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नीतीश सरकार में अल्पसंख्यको के लिए स्थिति असहज