DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ईमानदारी में बना दिया गया चोर

 इलाहाबाद हिन्दुस्तान संवाद। डॉ. जाकिर हुसैन की 117वीं जयंती पर ‘मंजिल जनहित सेवा संस्थान’ की ओर से शनिवार को माघमेला क्षेत्र में नाटक ‘बचपन हाशिए पर’ का मंचन किया गया। इसके माध्यम से लोगों को बताया गया कि ईमानदारी की रोटी तोड़ना भी आम आदमी के लिए मुश्किल है। नाटक के माध्यम से दिखाया गया कि चौदह वर्ष का बालक माघ मेले में चाय की दुकान चला रहा है।

लेकिन पुलिस वाले और अन्य चाय पीकर बिना पैसे दिए चले जाते हैं। इससे तंग आकर वह पुलिस से भिड़ जाता है और पुलिस वाले उसे चोरी के जुर्म में बंद कर देते हैं। राजेश कुमार, संजू, उत्कर्षित कुशवाहा, शविम केसरवानी और अनिल ने नाटक का मंचन किया। वरिष्ठ लेखक व समाजसेवी कृष्ण गोपाल ने कहा कि ‘जाकिर हुसैन’ हिन्दू-मुस्लिम एकता के मिसाल थें। उन्होंने राष्ट्रहित के लिए कार्य किया और अपना पूरा जीवन भारत के विकास में लगा दिया।

कंचन श्रीवास्तव, पूजा श्रीवास्तव, रोहित कुमार, संदीप कुमार, विष्णु कुमार, अजय कुमार, सुरेश केसरवानी आदि मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ईमानदारी में बना दिया गया चोर