DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

चौथे बच्चे को भी मिलेंगे सिबलिंग के प्वाइंट

चौथे बच्चे को भी मिलेंगे सिबलिंग के प्वाइंट

यदि आपके दो से अधिक बच्चे किसी स्कूल में पढ़ रहे हैं और आपने तीसरे या चौथे बच्चे के दाखिले के लिए सिबलिंग वर्ग में आवेदन किया है तो ऐसी स्थिति में उसे सिबलिंग के प्वाइंट मिलेंगे। बशर्तें बच्चे सगे भाई-बहन हों। स्कूल प्वाइंट देने से इनकार नहीं कर सकते हैं।

शिक्षा निदेशक पद्मिनी सिंघला ने बताया कि सिबिलग के नियम कहते हैं कि दो या उससे अधिक बच्चों के एक स्कूल में पढ़ने की स्थिति में सिबलिंग का नियम लागू होगा। कोई भी स्कूल सिर्फ दो बच्चों की शर्त नहीं रख सकता। वहीं नर्सरी हेल्पलाइन के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सिबलिंग को लेकर सबसे अधिक सवाल पूछे जा रहे हैं। अधिकतर शिकायतें स्कूलों द्वारा इस वर्ग में शर्त रखने को लेकर हैं। ऐसी 55 शिकायतें अकेले शुक्रवार को आईं। इस बाबत उन्हें संतुष्ट किया गया है।

अधिकतम उम्र भी पेंच
गाइडलाइंस के अनुसार न्यूनतम उम्र 31 मार्च तक तीन साल होनी चाहिए लेकिन अधिकतम उम्र का नियम न होने से स्कूलों को इस संबंध में छूट मिल गई है। आवेदन फॉर्म तो स्वीकार कर लिए गए हैं मगर कोई स्कूल अधिकतम उम्र साढ़े तीन साल तो कोई चार साल से अधिक भी ले रहा है। ऐसे में अधिकतम उम्र मेरिट सूची में बडम पेच बन सकता है। अभिभावकों को डर है कि स्कूल आवेदन खारिज न कर दें।

ड्रॉ में अभिभावक होंगे
ईडब्ल्यूएस वर्ग को ड्रॉ से सीटें मिलेंगी। सामान्य वर्ग में समान अंक होने पर ड्रॉ का सहारा लिया जाएगा। ड्रा के वक्त अभिभावक उपस्थित रहेंगे। स्कूलों को ड्रॉ की तिथि और समय के बारे में बताना ही होगा। स्कूलों को ड्रा प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराकर फुटेज निदेशालय भेजने होगी। अभिभावक भी वीडियो रिकॉर्डिंग कर सकेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:चौथे बच्चे को भी मिलेंगे सिबलिंग के प्वाइंट