DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार के मंत्री पर आतंकियों से रिश्ते के आरोप

बिहार के मंत्री पर आतंकियों से रिश्ते के आरोप

बिहार सरकार के मंत्री शाहिद अली खां पर संदिग्ध आतंकियों से संबंध होने के आरोप लगने के बाद शुक्रवार को सियासी कोहराम मच गया। भाजपा ने राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

एसएसबी की इंटेलिजेंस यूनिट ने पुलिस मुख्यालय को भेजी रिपोर्ट में कहा था कि इंडियन मुजाहिदीन और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से ताल्लुक रखने वाले मोतिहारी के दो संदिग्धों से मंत्री के संबंध हैं। एसएसबी ने जांच के लिए मोतिहारी और सीतामढ़ी एसपी को भी पत्र भेजा था। हालांकि दोनों जिलों के एसपी ने अपनी रिपोर्ट में इस आरोप को खारिज कर दिया है। उधर, मंत्री ने कहा कि आरोप साबित होने पर उन्हें फांसी पर चढम दिया जाए, अन्यथा रिपोर्ट भेजेन वाले अफसर पर कार्रवाई की जाए। एडीजी मुख्यालय रवींद्र कुमार ने बताया कि राज्य सरकार के मंत्री के संबंध संदिग्ध आतंकी और आईएसआई के एजेंट से होने के संबंध में एसएसबी द्वारा एसटीएफ को पिछले महीने जानकारी दी गई थी। पत्र में कहा गया था कि मोतिहारी निवासी जमील अख्तर और मंजूर साईं के राज्य सरकार के मंत्री से संबंध हैं। सीतामढ़ी और मोतिहारी पुलिस से इसकी छानबीन कराई गई। दोनों जिलों के एसपी ने जमील अख्तर और मंजूर साईं के आतंकी होने और मंत्री से उनके संबंधों की पुष्टि नहीं की है।

एडीजी के मुताबिक सीतामढ़ी एसपी ने 26 जनवरी को भेजी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि जमील अख्तर आठ वर्षो से बैरगनिया में रहकर साइकिल की दुकान चलाता है। वहीं मोतिहारी एसपी ने जांच के बाद बताया कि मंजूर साईं फुलवारी, ढाका में राज मिस्त्री का काम करता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार के मंत्री पर आतंकियों से रिश्ते के आरोप