DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोची के उद्घाटन समारोह में भारत को होना पड़ा शर्मसार

सोची के उद्घाटन समारोह में भारत को होना पड़ा शर्मसार

भारत को शुक्रवार देर रात यहां सोची शीतकालीन ओलंपिक खेलों के उद्घाटन समारोह के दौरान शर्मसार होना पड़ा क्योंकि इसके तीन खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय ध्वज के बिना ही इसमें शिरकत की।
    
भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने नैतिक और प्रशासनिक कारणों से निलंबित किया हुआ है। जिससे भारत के लूज खिलाड़ी शिवा केशवन, एलपाइन स्कायर हिमांशु ठाकुर और क्रॉस कंट्री स्कायर नदीम इकबाल आईओसी ध्वज के तले उद्घाटन समारोह में भाग लेंगे।
    
भारतीय एथलीट व्यक्तिगत एथलीटों के वर्ग के अंतर्गत शीतकालीन खेलों में हिस्सा लेंगे और ये ओलंपिक ध्वज का प्रतिनिधित्व करेंगे। भारत के लिए यह शर्मसार करने वाली घटना होगी क्योंकि पूरी दुनिया के अरबों लोग फिश्ट ओलंपिक स्टेडियम में होने वाले उद्घाटन समारोह को देखेंगे।
    
आईओसी ने दिसंबर 2012 में आईओए को ओलंपिक चार्टर का पालन नहीं करने के लिए प्रतिबंधित किया था। इसके कारण भारतीय एथलीटों, जिसमें मुक्केबाज शामिल हैं, को विश्व संस्था के झंडे तले टूर्नामेंटों में भाग लेना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोची के उद्घाटन समारोह में भारत को होना पड़ा शर्मसार