DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

14 महीने बाद उत्पाद इंस्पेक्टर को नोटिस

जमशेदपुर संवाददाता। उत्पाद व मद्य निषेध विभाग ने इंस्पेक्टर क्षितिज विजय मिंज को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। यह कार्रवाई घटना के 14 महीने के बाद की गई है। इसी मामले में उत्पाद सब इंस्पेक्टर ललिता यादव को सस्पेंड कर दिया गया है।

मामला 16 दिसंबर 2012 का है। उस दिन विधानसभा की लोक लेखा समिति के सभापति सौरभ नारायण सिंह और विधायक बन्ना सह समिति के सदस्य गुप्ता ने डिमना चौक के समीप रिपीट कॉलोनी में महालक्ष्मी ट्रेडर्स के लाइसेंसी शराब गोदाम पर छापेमारी की थी।

इसके संचालक अभिषेक कुमार थे। छापेमारी में मूल गोदाम के पीछे छिपाकर बनाए गए कई गुना बड़े गोदाम का पता चला और उसमें रखी लाखों रुपए की शराब बरामद हुई थी। सात दिन में मांगा जवाबइस मामले में मिंज से सात दिनों के भीतर जवाब मांगा गया है। माना गया है कि इंस्पेक्टर मिंज ने शराब के अवैध कारोबार पर प्रभावी नियंत्रण का प्रयास नहीं किया। कर्तव्य में लापरवाही बरती, जिस वजह से उत्पाद राजस्व को नुकसान पहुंचा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:14 महीने बाद उत्पाद इंस्पेक्टर को नोटिस