अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जैप बटालियन मलेरिया से तबाह, दो मरे

उग्रवादियों से लोहा लेनेवाले झारखंड आम्र्ड पुलिस (जैप) के जवान मच्छरों से तबाह हैं। जैप-1 की पूरी लगभग एक बटालियन मलेरिया से पीड़ित है। दो जवानों की मौत 20 जून को हो गयी। बीमार जवानों का रांची, हजारीबाग और चाईबासा के अस्पतालों में इलाज कराया जा रहा है। डाक्टरों ने सेरब्रल मलेरिया की आशंका जतायी है। हालांकि जांच के बाद ही इसकी पुष्टि की जा सकेगी। फिलहाल, तमाड़ में प्रतिनियुक्त जैप के सभी जवानों को मुख्यालय बुला लिया गया है। उनके स्थान पर दूसर जवान भेजे गये हैं।ड्ढr जवानों से अटा पड़ा है जप अस्पतालड्ढr रांची के डोरंडा स्थित जैप का अस्पताल इन दिनों मलेरिया से पीड़ित जवानों से अटा पड़ा है। जैप-1 की समादेष्टा तदाशा मिश्र खुद रोगियों पर नजर रख रहीं हैं। मलेरिया से दो जवान लालू गुरुंग और कुमार सुब्बा की मौत हो गयी।ड्ढr इसके अलावा जैप अस्पताल में गजेंद्र भुजेल, शेषमणि पांडेल, देवेंद्र प्रधान, नवराज बसनेत, किरण प्रधान, विक्रम राय, सुरश थापा, राजेश ठाकुर, अजरुन नेवार, मुकेश क्षेत्री, मनोज राय, संदीप क्षेत्री, कमल मल्लाह सहित कई अन्य जवानों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।ड्ढr मुख्य निशानेबाज कमोद भी पीड़ितड्ढr बल का मुख्य निशानेबाज कमोद पुण्य भी इस बीमारी से पीड़ित है। जैप की एक कंपनी पहले सारंडा जंगल में तैनात थी। वहां से इन्हें बुंडू और तमाड़ लाया गया था। यहीं जांच में जवानों के मलेरिया से ग्रसित होने की बात सामने आयी। ये सभी तेज सरदर्द और बुखार की चपेट में हैं। इनके रक्त के नमूने को गहन जांच के लिए भेजा गया है।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जैप बटालियन मलेरिया से तबाह, दो मरे