DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुल निर्माण निगमः जेई के ठिकानों पर ईओयू का छापा

गया/ बोधगया हिन्दुस्तान प्रतिनिधि/ एक संवाददाता। बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के जूनियर इंजीनियर सुनील कुमार के शहर के गोदावरी मुहल्ले में स्थित आलीशान मकान और बोधगया के उनके होटल में आर्थिक अपराध अनुसंधान इकाई की टीम ने शुक्रवार को छापेमारी की। सुबह सात बजे से शुरू हुई छापेमारी शाम पांच बजे तक चली।

छापेमारी में ईओयू को कई महत्वपूर्ण दस्तावेज मिले, जिसे वह अपने साथ लेकर पटना चली गयी। ईओयू की टीम ने गया-बोधगया के अलावा पटना में भी जूनियर इंजीनियर के चार ठिकानों पर छापेमारी की है।

पुल निर्माण निगम के इस जूनियर इंजीनियर पर आय से अधिक संपत्ति और रशि्वत लेने के आरोप में ईओयू ने छापेमारी की है। उनके गोदावरी मुहल्ले में स्थित हरि-पार्वती नविास नाम से बने मकान और बोधगया के होटल तथागत इंटरनेशनल में छापेमारी की गयी। छापेमारी टीम को दोनों जगहों से कुछ महत्वपूर्ण फाइलें हाथ लगी हैं।

टीम ने घर पर रहे लोगों और बोधगया स्थित होटल के कर्मचारियों से पूछताछ की। ईओयू की टीम ने कई बिन्दुओं पर उनलोगों से जानकारी ली। सुनील कुमार बोधगया के पचहट्टी मुहल्ले के रहने वाले हैं।

गया के गोदावरी मुहल्ले में उनका ननिहाल है। बोधगया में दो आलीशान होटलों के अलावा इनके पास करोड़ो रुपए की चल अचल संपत्ति है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बोधगया होटल से दस बैंक एकाउंट तथा साढ़े तीन एकड़ जमीन के कागजात मिले हैं।

तीन चेक बुक भी मिलने की चर्चा है। टीम का नेतृत्व कर रहे इंस्पेक्टर ने इस बारे में कुछ भी बताने से परहेज किया। सूत्रों ने बताया कि गया-बोधगया के अलावा पटना के सगुना मोड़ के पास स्थित जनक पैलेस और पार्वती पैलेस (अपार्टमेंट) के मकान और कार्यालय सहित चार ठिकानों पर ईओयू ने छापेमारी की है। छापेमारी में टीम को पत्नी के नाम पर अकूत संपत्ति अर्जित करने का मामला मिला है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पुल निर्माण निगमः जेई के ठिकानों पर ईओयू का छापा