DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बेटा भी लापता, अब पिता को मिल रही धमकी

हिन्दुस्तान प्रतिनिधि पटना। गर्दनीबाग थाने के जक्कनपुर पानी टंकी के नजदीक दवा की दुकान चलाने वाले गंगा खरवार के अपहृत पुत्र रजनीश उर्फ मंगल कुमार (11 वर्ष) का तीन माह बाद भी सुराग नहीं मिला है। प्राथमिकी दर्ज कराने के बाद से पिता को जान से मारने की धमकी मिल रही है।

आरोपितों के डर से पूरा परिवार घर भी बदल लिया है। यही नहीं, गंगा खरवार ने उन लोगों के डर से अपनी दवा की दुकान भी बंद कर दी है। अभियुक्तों पर कार्रवाई न होता देख पीड़ित परिवार ने एसएसपी से लेकर मुख्यमंत्री के जनता दरबार में न्याय की गुहार लगायी है।

गर्दनीबाग थानेदार ज्योति प्रकाश ने बताया कि वरीय पुलिस पदाधिकारी के आदेशानुसार कार्रवाई की जा रही है। जल्द ही आरोपितों की गिरफ्तारी की जाएगी।

क्या है मामलाः कैमूर जिले के तुर्की थाना के कुदरा गांव निवासी गंगा खरवार जक्कनपुर के पप्पू साह के मकान में दो साल से किराये पर रह रहे थे। उस मकान का किराया पप्पू साह का भांजा सन्नी साह वसूलता था।

पीड़ित के मुताबिक, सन्नी ऊपर के फ्लोर में रहता था। एक दिन देर रात दरवाजा खोलने को लेकर दोनों में झगड़ा हुआ। उसके बाद पीड़ित परिवार ने मकान खाली कर दिया। कुछ दिनों के बाद दुकान से घर जा रहा उनका बेटा मंगल लापता हो गया। डेढ़ महीने बाद दर्ज हुआ केसइस बाबत पीड़ित पिता अपने मकान मालिक के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज कराने गर्दनीबाग थाने पहुंचे, लेकिन उन्हें लौटा दिया गया।

उसके बाद पिता ने एसएसपी व मुख्यमंत्री के जनता दरबार में दोबार गुहार लगायी। करीब डेढ़ महीने बाद थाने में मकान मालिक व उसके भांजे के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। इसके बाद पुलिस हरकत में आयी। पीड़ित ने बताया कि पुलिस की दबशि को देख आरोपित केस उठाने की धमकी देने लगे।

कई बार रास्ते में धमकाया भी। आरोपितों के डर से उन्होंने अपनी दवा दुकान भी बंद कर दी। यही नहीं, मोहल्ला भी बदल दिया। वहीं सन्नी कुमार ने बताया कि उनके बेटे का अपहरण नहीं हुआ है। बच्चा अपनी सौतेली मां व बाप की पिटाई से डर कर भागा होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बेटा भी लापता, अब पिता को मिल रही धमकी