DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ठेकेदारों के मन से निकाला आपदा का खौफ

देहरादून, वरिष्ठ संवाददाता। प्रदेश में आई भीषण आपदा के चलते पेयजल योजनाओं का निर्माण करने वाली बड़ी कंपनियों ने भी हाथ पीछे खींच लिए हैं। कंपनियों के मन से आपदा का यही खौफ निकालने को शुक्रवार को पेयजल निगम ने बिडर कांफ्रेंस का आयोजन किया। प्रदेश में पेयजल योजनाओं के निर्माण से जुड़ी कंपनियों के दिलचस्पी न दिखाने से बड़ी संख्या में योजनाएं शुरू नहीं हो पा रही हैं। बड़ी कंस्ट्रक्शन कंपनियों की ओर से टेंडर प्रक्रिया में होने वाली देरी पर भी सवाल उठाए।

कहा कि टेंडर कॉल करने से लेकर निर्माण कार्य अवार्ड करने के बीच खासा समय निकल जाता है। इस बीच के समय में योजना की लागत बढ़ जाती है। ऐसे में कंपनियों को रेट वेरियशन का लाभ देते हुए अतिरिक्त भुगतान की भी व्यवस्था हो। पेयजल निगम की ओर से आश्वासन दिया गया कि इस तरह की व्यवहारिक दिक्कतों को दूर किया जाएगा। बताया कि प्रदेश में आपदा का असर सिर्फ कुछ ही क्षेत्रों में रहा। पूरे प्रदेश में ऐसी कोई स्थिति नहीं है, जिससे की योजनाओं का निर्माण न किया जा सके।

कांफ्रेंस में कंपनियां पेयजल निगम के तर्को से संतुष्ट नजर आई। प्रबंध निदेशक भजन सिंह ने बताया कि कंपनियों ने उत्साह दिखाया है। उम्मीद है कि योजनाओं के निर्माण में कंपनियां अधिक संख्या में हिस्सा लेंगी। इस अवसर पर मुख्य अभियंता सुनील कुमार, अधीक्षण अभियंता बीसी पुरोहित, अधिशासी अभियंता दीपक मलिक आदि मौजूद रहे। ं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ठेकेदारों के मन से निकाला आपदा का खौफ