DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पैसा नहीं आने से गांवों में विकास कार्य ठप

 औराई। हिन्दुस्तान संवाद। औराई ब्लाक के अधसिंख्य ग्राम प्रधानों के खाते में धन नहीं आने से विकास कार्य ठप पड़े हैं। प्रधानों के प्रथम खाते में करीब सात महीने से पैसा नहीं भेजा जा रहा है। इससे गांवों की बुनियादी सुविधाएं मसलन, पानी, बिजली, सड़क, शिक्षा आदि की व्यवस्था को चाक-चौबंद रखने में दिक्कत हो रही है। औराई प्रधान संघ के ब्लाक अध्यक्ष शविभूषण उपाध्याय ‘गोपाल’ ने पंचायती राज मंत्री बलराम यादव से गुहार भी लगाई है।

उधर, विभागीय अधिकारियों का कहना है कि एमआईएस फीडिंग पूरी नहीं होने से ऐसी दिक्कत आई है। औराई विकास खंड में कुल 108 गांव हैं। यहां ग्राम प्रधानों के प्रथम खाते में सात महीने से पैसा नहीं आ रहा है। इससे इन गांवों में स्वच्छता अभियान, हैंडपम्प मरम्मत, खड़ंजा निर्माण, प्रकाश व्यवस्था, जलनिकासी के लिए नाली निर्माण, प्राथमिक विद्यालय में अतिरिक्त कक्ष निर्माण, एमडीएम का धन, रोजगार सेवकों का मानदेय आदि कार्य ठप पड़े हैं। प्रधानों की मानें तो 2012-13 एमआईएस फीडिंग नहीं होने के चलते नविर्तमान जिलाधिकारी चंद्रकांत पांडेय ने धन भेजने पर रोक लगा दी थी।

वहीं, शासन भी गांवों में हुए विकास कार्यो की गुणवत्ता परखने और पारदर्शिता जांचने के लिए एमआईएस फीडिंग को लेकर सख्त हो हो गया। हालांकि कुछ ग्रामसभाओं की एमआईएस फीडिंग हो चुकी थी लेकिन ऐसे करीब दर्जन भर गांव थे। यहां खातों में पैसा भेज दिया गया। इस सम्बंध में औराई प्रधान संघ के ब्लाक अध्यक्ष शविभूषण उपाध्याय ‘गोपाल’, शविकांत शुक्ला, फुलेसरा देवी, महेन्द्र प्रसाद, शवशि्याम यादव, सत्यप्रकाश तिवारी समेत दर्जनों प्रधानों ने शासन-प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराया था। इस सम्बंध में प्रभारी खंड विकास अधिकारी/उपजिलाधिकारी राजेन्द्र प्रसाद ने बताया कि शासन से खातों में भेजने के लिए धन अवमुक्त हो गया है।

उसे खाते में भेजने की कार्यवाही शुरू हो गई है। करीब दो दर्जन गांवों के खाते में पैसा भेजा जा चुका है। ं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पैसा नहीं आने से गांवों में विकास कार्य ठप