DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अप्रैल में ऑटो किरायों का पुनरीक्षण करेगी दिल्ली सरकार: केजरीवाल

अप्रैल में ऑटो किरायों का पुनरीक्षण करेगी दिल्ली सरकार: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को ऐलान किया कि महंगाई के आधार पर ऑटो किराए का वार्षिक पुनरीक्षण किया जाएगा, परिवहन विभाग ड्राइवरों को प्रशिक्षण प्रदान करेगा और उनके लिए कुछ नियमों में छूट दी जाएगी। बुराड़ी में हजारों ऑटो ड्राइवरों की एक बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हर साल 1 अप्रैल को सरकार ऑटो किरायों का पुनरीक्षण करेगी।
     
राजधानी में करीब 80,000 ऑटो रिक्शा हैं। अपनी चुनावी कामयाबी में आम आदमी पार्टी ने ऑटो रिक्शा वालों की महत्वपूर्ण भूमिका स्वीकार की और वादा किया कि उनकी शिकायतें दूर की जाएंगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यदि महंगाई बढ़ेगी तो ऑटो के किराये भी बढ़ाए जाएंगे। यदि महंगाई कम होगी तो सरकार ऑटो किराये में कमी भी करेगी ।
     
केजरीवाल ने कहा कि ट्रैफिक पुलिस और परिवहन विभाग सिर्फ उस ऑटो को जब्त करेगी जिसके पास लाइसेंस, परमिट और फिटनेस प्रमाण-पत्र नहीं होंगे । हमें पता चला है कि ऑटो ड्राइवरों के उचित ड्रेस में नहीं होने या और भी कई छोटे-छोटे उल्लंघनों पर ट्रैफिक पुलिस नियम 66.192ए के तहत ऑटो रिक्शा जब्त कर लेती है। पर अब ट्रैफिक पुलिस सिर्फ उन ऑटो को जब्त करेगी जिनके पास लाइसेंस, फिटनेस प्रमाण-पत्र और परमिट न हों।
     
आज शाम दिल्ली सरकार ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के बारे में ऐसी शिकायतें मिली हैं कि विभिन्न गाडिम्यों के परमिट निलंबित करने के लिए वह धारा 86 (4) के तहत अपने अधिकारों का गलत इस्तेमाल कर रही है ।


विज्ञप्ति में कहा गया, दिल्ली सरकार ने अब सिर्फ तीन स्थिति में हल्के मोटर वाहनों का परमिट निलंबित करने की इजाजत देने का फैसला किया है। वे तीन स्थितियां होंगी - बिना मान्य परमिट के ड्राइविंग, बिना लाइसेंस के ड्राइविंग और पंजीकरण प्रमाण-पत्र के बगैर ड्राइविंग।       
     
मुख्यमंत्री ने ऑटो ड्राइवरों द्वारा यात्रियों को बिठाने से मना करने और उनसे बदसलूकी करने का मामला भी उठाया । अक्सर यात्री शिकायत करते हैं कि उन्हें ऑटो वाले ने बिठाने से मना कर दिया या उनसे बदसलूकी की।
     
केजरीवाल ने कहा, मैं ऑटो ड्राइवरों से अनुरोध करता हूं कि वे यात्रियों को बिठाने से मना न करें । यात्रियों के सफर से ही तो आप पैसा कमाते हैं और आपके परिवार की रोजी-रोटी चलती है। यदि ऑटो ड्राइवर रात में काम के बाद अपने घर जा रहे होते हैं तो मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि वे अपनी गाड़ी के आगे नो सर्विस की तख्ती लगाकर रखें । ऐसे ऑटो को यात्रियों को बिठाने से मना करने पर जुर्माना नहीं लगेगा।
 
मुख्यमंत्री ने कहा, हमें पता चला है कि कुछ ऑटो ड्राइवर यात्रियों एवं पर्यटकों के साथ बदसलूकी करते हैं । हमारी सरकार ने ऑटो ड्राइवरों को प्रशिक्षित करने का फैसला किया है जिसमें उन्हें यात्रियों एवं विदेशी पर्यटकों से सलूक करना सिखाया जाएगा। नियमों के मुताबिक, ऑटो ड्राइवरों को अपनी गाड़ी में मीटर और जीपीएस लगाने होंगे जिसके कारण उन्हें करीब 17,000 रूपए खर्च करने होंगे ।
     
केजरीवाल ने कहा, ऑटो ड्राइवर अपनी गाड़ी में पहले सिर्फ जीपीएस लगाएं । ऑटो में दोनों उपकरण एक साथ लगाने का प्रावधान नहीं होगा ।


दिल्ली सरकार ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र :एनसीआर: के लिए नए ऑटो रिक्शा परमिट का मामला उच्च न्यायालय के समक्ष उठाया गया है और न्यायालय ने कॉरपोरेट योजना की बजाय व्यक्तिगत आधार पर 5500 ऑटो रिक्शा परमिट जारी करने की अनुमति दे दी है । सरकार ने कहा कि लोक निर्माण विभाग एवं तीन नगर निगमों को 550 स्थानों के बारे में बताया गया है जहां ऑटो रिक्शा तथा टैक्सी के लिए हॉल्ट एंड गो सूचक लगाए जाएंगे।
     
परिवहन मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कहा, सरकार ने सभी निर्माणकर्ताओं को ऐसे इकाइयां स्थापित करने की इजाजत दे दी है जहां पुराने और बेकार ऑटो रिक्शा को डाल दिया जाए । इसके लिए सार्वजनिक नोटिस जारी किया जाएगा ।
     
भारद्वाज ने कहा कि सरकार को डीआईएमटीएस के बारे में शिकायतें मिल रही हैं और सीएजी से उसका ऑडिट कराने की योजना बनायी जा रही है।
     
परिवहन मंत्री ने कहा कि सरकार जीपीएस वेंडरों के लिए निविदा आमंत्रित करने के बारे में सोच रही है जिससे इसकी कीमत में कमी आएगी।दिल्ली सरकार ने कहा कि ऑटो ड्राइवरों की मदद के लिए बुराड़ी में पूछताछ काउंटर खोला जाएगा ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अप्रैल में ऑटो किरायों का पुनरीक्षण करेगी दिल्ली सरकार: केजरीवाल