DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोदी कभी भारत के प्रधानमंत्री नहीं बन सकते: खान

मोदी कभी भारत के प्रधानमंत्री नहीं बन सकते: खान

नरेंद्र मोदी को कृत्रिम व्यक्तित्व करार देते हुए अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री के रहमान खान ने कहा है कि मोदी कभी देश के प्रधानमंत्री नहीं बन सकते, क्योंकि ऐसा हिन्दुस्तान की लोकतंत्र के लिए खतरनाक और लोगों के हित में नहीं होगा।

मुजफ्फरनगर दंगे को हिन्दुस्तान के लोकतंत्र पर धब्बा करार देते हुए केंद्रीय मंत्री ने इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार को पूरी तरह से विफल बताया। खान ने कहा कि भाजपा की मजबूरी है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की कट्टर छवि वाले चेहरे को पेश करे। मोदी केवल कांग्रेस को गालियां देते हैं और आलोचना करते हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस को गाली देने और आलोचना करने के अलावा मोदी के पास लोगों को बताने के लिए कुछ भी नहीं है। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने कहा कि मोदी कभी देश के प्रधानमंत्री नहीं बन पायेंगे। लोगों के हित में नहीं है कि वे प्रधानमंत्री बनें। वह तानाशाह हो जायेंगे, जो हिन्दुस्तान के लोकतंत्र के लिए खतरा होगा।

खान ने कहा कि मोदी एक कृत्रिम व्यक्तित्व हैं। वह मंच पर आने पर अपने आप को कामयाब मुख्यमंत्री, कामयाब नेता तथा हिन्दुस्तान का मुस्तकबिल बदलने वाले व्यक्ति के तौर पर पेश करने की कोशिश करते हैं और इस संदर्भ में गुजरात का उल्लेख करते हैं। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने दावा किया कि गुजरात के विकास में मोदी का कोई योगदान नहीं है। गुजरात पहले से ही विकसित रहा है। गुजरात के लोग दूरदर्शी रहे हैं। गुजरात में औद्योगिक विकास कांग्रेस की पूर्व की सरकार की देन है। मोदी पूर्व की अच्छी सरकार के काम पर अपना दावा कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मोदी के प्रचार पर लाखों-करोड़ों रुपये खर्च हो रहा है, जबकि स्थिति इसके उलट है। मोदी के प्रधानमंत्री बनने की संभावना के बारे में पूछे जाने पर खान ने कहा कि वह न के बराबर संभावना (मोदी के प्रधानमंत्री बनने की) देखते हैं। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर दंगों के बारे में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने कहा कि जो हालात यहां दंगा और इसके बाद पेश आए, उसकी जितनी जोर से निंदा की जाए, यह कम है।

उन्होंने कहा कि यहां जो दंगे हुए, इसके बाद बड़ी संख्या में लोग घर और कारोबार छोड़कर भागने को मजबूर हुए। करीब 50 हजार लोगों को शिविरों में शरण लेनी पड़ी। इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार पूरी तरह से विफल हो गई। दंगों में शामिल लोगों के साथ सख्ती नहीं की गई। खान ने कहा कि भाजपा ने हद कर दी, जिनके उपर इल्जाम हैं, उन्हें मोदी की सभा में सम्मानित किया गया।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 2002 के दंगों के बाद यह (मुजफ्फरनगर दंगा) सबसे शर्मनाक साबित हुआ। यह पूछे जाने पर इस मामले में उनके मंत्रालय ने क्या पहल की, खान ने कहा कि मैंने खुद इलाके का दौरा किया और एक पैकेज का एलान किया। इसके तहत प्रभावित लोगों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार से जमीन की पहचान करने और इंदिरा आवास योजना के तहत इन्हें घर आवंटित करने, नौजवानों के लिए कौशल विकास कार्यक्रम चलाने, जिनके कारोबार उजड़ गए हो, उनको ब्याज मुक्त ऋण प्रदान करने, शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति प्रदान करने जैसी पहल शामिल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मोदी कभी भारत के प्रधानमंत्री नहीं बन सकते: खान