DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आज गुलाब देकर होगा प्यार का इजहार

जमशेदपुर, वरीय संवाददाता। वसंत ऋतु (मौसम-ए-बहार) के आगमन पर प्रकृति भी लोगों को आपस में प्रेम बांटने के लिए प्रेरित करती है। धरती स्वर्ग का रूप धारण करने लगती है। मौसम सुहाना होने के कारण अरमान मचलने लगते हैं। रोज-डे के साथ आज से प्यार के सप्ताह वेलेंटाइन वीक की शुरुआत हो गई है। शुक्रवार को रोज-डे है। इस दिन हम गुलाब देकर अपनी भावनाओं को दूसरे तक पहुंचा सकते हैं।

सुखद संकेत है वेलेंटाइन वीक इस बार वसंत ऋतु के साथ वेलेंटाइन सप्ताह का आगाज सुखद संकेत लेकर आया है। मौसम-ए-बहार पर फैज अहमद ‘फैज’ की पंक्ति ‘फिर नजर में फूल महके, दिल में फिर शमा जली, फिर तसव्वुर ने लिया इस बज्म में जाने का नाम..’ आज भी सटीक बैठती है।

12 मार्च तक प्रेम प्रकट करने का उत्तम समयज्योतिषाचार्य डॉ. सुधानंद झा बताते हैं कि 1 फरवरी से 15 फरवरी तक प्रेम प्रकट करने का सुंदर समय है। 15 फरवरी से 12 मार्च तक का समय उससे भी उत्तम है।

बशर्ते कि शारीरिक स्पर्श नहीं, नैतिकता की मानसिकता हो। भारतीय संस्कृति में प्रेम और हमेशा के लिए बंधन में बंधने का वसंत से बेहतर और कोई मौसम नहीं है। बढ़ जाता है इमोशनल टच ज्योतिषाचार्य ने बताया कि सूर्य मकर राशि में है और पूर्ण रूप से उत्तरायण में है।

वेलेंटाइन सप्ताह में शुक्ल पक्ष रहता है और चंद्रमा ज्यादा दिखाई पड़ता है। चंद्रमा बढ़ने के कारण प्यार और इमोशनल टच भी बढ़ जाता है। वेलेंटाइन सप्ताह 07 फरवरी : रोज डे 08 फरवरी : प्रपोज डे 09 फरवरी : चॉकलेट डे 10 फरवरी : टेडी डे 11 फरवरी : प्रॉमिस डे 12 फरवरी : किस डे 13 फरवरी : हग डे 14 फरवरी : वेलेंटाइन डे।

गुलाब के हर रंग के अलग मायने सफेद गुलाब : मासूमियत, शुद्धता और बिना शर्त प्यार का प्रतीक, पीला गुलाब : दोस्ती और खुशी का प्रतीक, गुलाबी गुलाब : कोमलता, दोस्ती, नम्रता, कृतज्ञता का प्रतीक, नारंगी गुलाब : उत्साह का प्रतीक, लाल गुलाब : सच्चे प्यार का प्रतीक, काला गुलाब : दुश्मनी का प्रतीक।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आज गुलाब देकर होगा प्यार का इजहार