DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

होटल कर्मी की संदिग्ध हालात में मौत

भरुआ सुमेरपुर। हिन्दुस्तान संवाद। ब्लाक कार्यालय के ठीक सामने स्थित एक होटल में काम करने वाले कर्मी की संदिग्ध हालात में नहाते समय मौत हो गई। होटल मालिक ने परिवारजनों के साथ ही पुलिस को अवगत कराया है। परिवारजनों के न आ पाने के कारण शव होटल पर ही रखा था।

होटल मालिक पप्पू तिवारी ने बताया कि महोबा जनपद के खन्ना थाना क्षेत्र के बहिंगा गांव निवासी छुट्टन (55) पिछले कई सालों से फैक्ट्री एरिया में संचालित शिखा होटल में काम करता था। हाईवे निर्माण के कारण होटल कई दिनों से बंद चल रहा है। एक सप्ताह पूर्व ही छुट्टन फिर से काम पर आया था। होटल लाइन से जुड़े होने की वजह से उसे फिर से काम पर रख लिया गया था। होटल मालिक ने बताया कि दो दिन से छुट्टन बीमार चल रहा था, इसे खांसी की शिकायत थी।

बीमार होने पर पांच फरवरी को इसे नवीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में इलाज के लिए ले गए थे। डॉक्टरों ने देखने के बाद दवा भी दी थी। रात में इसने दवा खाई और खाना खाकर सो गया। 6 फरवरी की सुबह यह जगा और चाय पीकर घूमता रहा। साढ़े नौ बजे नहाने के लिए गया और फिर वहीं गिर गया। जब इसे देखा गया तो इसकी मौत हो चुकी थी। होटल मालिक ने बताया कि मृतक के परिवारजन मौदहा में रहते हैं।

उनके घर सूचना भेजी गई है। साथ ही लिखित तौर पर स्थानीय पुलिस को भी अवगत कराया गया है। उन्होंने बताया कि मृतक के परिवारजन फिलहाल मौके पर नहीं आ पाए हैं। शव को होटल में ही रखा दिया गया है। होटल कर्मी के अचानक गिरकर मरने पर आसपास के लोग तरह-तरह की बातें भी कर रहे हैं। स्थानीय पुलिस का कहना है कि मृतक टीबी जैसी बीमारी से ग्रसित बताया जा रहा है। उसकी स्वभाविक मौत हुई है। अगर परिवारजनों ने किसी तरह के आरोप लगाए तब मामले की जांच कराई जाएगी। फिलहाल होटल मालिक के अलावा किसी ने किसी तरह का आरोप नहीं लगाया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:होटल कर्मी की संदिग्ध हालात में मौत