DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रक्षा खरीद में भ्रष्टाचार पर कठोर कार्रवाई जरूरी: एंटनी

रक्षा खरीद में भ्रष्टाचार पर कठोर कार्रवाई जरूरी: एंटनी

3600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर सौदे को रद्द करने के बाद रक्षा मंत्री एके एंटनी ने कहा कि अनुबंधों को रद्द करने से रक्षा बलों के आधुनिकीकरण में विलंब होता है, लेकिन सरकार सैन्य खरीद प्रकिया में कदाचार और भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए इस तरह की कार्रवाई करती रहेगी।

द्विवार्षिक सैन्य प्रदर्शनी में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए रक्षा मंत्री ने माना कि सैन्य खरीद की प्रक्रिया 100 फीसदी स्वच्छ नहीं हो सकती लेकिन कठोर कार्रवाई यथा कंपनियों को काली सूची में डालने से यह विक्रेताओं को कठोर संदेश भेजेगा कि भारतीय खरीद प्रक्रिया में शरारत खतरनाक हो सकती है।

एंटनी ने कहा कि रक्षा खरीद प्रक्रिया में भ्रष्टाचार और कदाचार को समाप्त करने के लिए हमें कठोर कार्रवाई करनी है। कभी-कभी इससे विलंब होता है और झटका लगता है, लेकिन यह व्यवस्था को सुचारू बनाने में हमारी मदद करता है।

उन्होंने कहा कि लेकिन अगर कदाचार और भ्रष्टाचार है तो आपको रद्द करना है, आपको उन्हें दंडित करना है और अगर आरोप साबित होते हैं तो आपको उन्हें काली सूची में डालना है। वही हमारा कानून है और हम उसे करते रहेंगे।

मंत्री से पूछा गया था कि क्या फर्मों को काली सूची में डालने से सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण में विलंब हुआ है और हेलिकॉप्टर सौदे को रद्द करने के अलावा इससे निपटने का कोई और तरीका हो सकता था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रक्षा खरीद में भ्रष्टाचार पर कठोर कार्रवाई जरूरी: एंटनी