DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अपनी गेंदबाजी से बहुत खुश हैं इशांत

अपनी गेंदबाजी से बहुत खुश हैं इशांत

खराब फॉर्म के कारण पिछले कुछ समय से आलोचकों के निशाने पर रहे भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने गुरुवार को यहां कहा कि वह अभी जिस तरह से गेंदबाजी कर रहे हैं उससे खुश हैं।

इशांत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट क्रिकेट मैच के शुरुआती दिन 62 रन देकर दो विकेट लिए और इस बीच अपने 54वें टेस्ट मैच में 150 विकेट भी पूरे किये। उन्होंने पहले दिन का खेल समाप्त होने के बाद कहा कि टेस्ट मैचों में 150 विकेट लेना मेरे लिए बहुत बड़ी उपलब्धि है। मैं अच्छी गेंदबाजी कर रहा हूं। मैंने दक्षिण अफ्रीका में भी अच्छी गेंदबाजी की थी और मुझे नहीं लगता कि मुझे अपनी लय को लेकर चिंता करने की जरूरत है। अभी मैं जैसी गेंदबाजी कर रहा हूं, उससे काफी खुश हूं।

इशांत और जहीर खान ने दो-दो विकेट लिए लेकिन इसे बावजूद न्यूजीलैंड कप्तान ब्रैंडन मैकुलम और केन विलियमसन के शतकों की बदौलत पहले दिन चार विकेट पर 329 रन बनाने में सफल रहा। सुबह एक समय उसका स्कोर तीन विकेट पर 30 रन था।

इशांत ने कहा कि हमने पूरे दिन सही क्षेत्र में गेंद करायी लेकिन बल्लेबाजों को भी श्रेय जाता है। उन्होंने वास्तव में बहुत अच्छा खेल दिखाया। दिन बढ़ने के साथ विशेषकर लंच के बाद विकेट बल्लेबाजी के लिए अच्छा हो गया था। इस तरह के विकेट पर धैर्य बनाए रखने और सही क्षेत्र में गेंदबाजी करने की जरूरत पड़ती है। हमने ऐसा ही किया।

इशांत ने कहा कि हमने उनको दबाव में रखने की कोशिश की और किसी भी समय उनका रन रेट बहुत नहीं बढ़ने दिया। हमने नियंत्रित गेंदबाजी की। विकेट सपाट होने और गेंद पुरानी पड़ने पर भी हमने सही क्षेत्रों में गेंदबाजी की। विकेट सपाट होने पर आपको संयम रखकर देखना पड़ता है कि दबाव कैसे बनाए जा सकता है।
भारतीयों ने चार कैच भी टपकाये लेकिन इशांत ने कहा कि यह खेल का हिस्सा है।

उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर जब कैच टपकाया जाता है तो गेंदबाज को बुरा लगता है लेकिन यह खेल का हिस्सा है। आप इन चीजों पर नियंत्रण नहीं रख सकते। आप केवल लगातार सही लाइन व लेंथ से गेंदबाजी कर सकते हो। बल्लेबाज का आउट करना हमारा काम है और हम यही कोशिश कर रहे हैं।

इशांत ने कहा कि उन्होंने कुछ अच्छे शॉट खेले। हमने काफी बाउंसर किये तथा उन्होंने विकेटकीपर और स्लिप कार्डन के ऊपर से उस पर शॉट लगाए। आप इस सब पर नियंत्रण नहीं रख सकते। मध्यम गति के इस गेंदबाज के लिए हाल का समय काफी मुश्किल रहा। उन्हें पांच मैचों की सीरीज़ के आखिरी तीन मैचों से बाहर कर दिया गया था। भारत ने यह सीरीज़ 0-4 से गंवायी।

इशांत ने कहा कि पेशेवर क्रिकेटर होने के नाते आप जानते हो कि इससे आगे कैसे बढ़ना है। वनडे सीरीज़ गंवाने से हमें बुरा लगा लेकिन आगे बढ़ना महत्वपूर्ण है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अपनी गेंदबाजी से बहुत खुश हैं इशांत