DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जीने की राह सिखाता जेंडर

जीने की राह सिखाता जेंडर

अमेरिका में एक ऐसा पग है जो लोगों के जीवन में उजाला ला रहा है। वहां लोग इसे थेरेपी डॉग बुलाने लगे हैं। इसका नाम है जेंडर। जेंडर खुद नहीं देख सकता। जब वो एक साल का था, तब एक दुर्घटना में जेंडर की आंखें चली गई थीं। इसके बाद जेंडर को क्लेमेथ एनिमल शेल्टर से मर्सी और रॉडनी बीडे ने गोद ले लिया। मर्सी कहती हैं कि जब जेंडर उनके घर आया तभी उन्हें लगा कि ये दूसरों से अलग है। इस परिवार ने जेंडर का नाम अमेरिका के केनल क्लब में लिखवाया। इसके बाद जेंडर पेट पार्टनर थेरेपी डॉग नामक कार्यक्रम का हिस्सा बन गया। तब से जेंडर का हर दिन अस्पताल में बीमार लोगों के बीच ही बीतता है। वो नर्सिंग होम्स, एनिमल शेल्टर्स और स्कूल भी जाता है। मर्सी ने जेंडर के पैर में एक बैल बांध दी है, जिससे वो आराम से कहीं भी टहल सके। जेंडर का एक फेसबुक पेज भी है, जिसे लाखों लोगों ने लाइक किया है। मीट जेंडर नाम के इस पेज में बताया गया है कि जेंडर किस तरीके से लोगों की मदद कर रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जीने की राह सिखाता जेंडर