DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धमाके शांति के उद्देश्य को रोक नहीं सकते : नीतीश

धमाके शांति के उद्देश्य को रोक नहीं सकते : नीतीश

बोधगया। ज्ञानस्थली बोधगया में अंतरराष्ट्रीय बौद्ध महोत्सव के दूसरे दिन के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने विश्व धरोहर महाबोधि मंदिर के प्रांगण से गुब्बारे छोड़कर शांति और अहिंसा का संदेश दिया। पिछले साल जुलाई में सीरियल बम धमाके की घटना के बाद बोधगया में अंर्तराष्ट्रीय बौद्ध महोत्सव के आयोजन से एक बार फिर बुद्ध की भूमि बोधगया से विश्व शांति का आगाज हुआ है।

बुधवार को मुख्यमंत्री के महाबोधि मंदिर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान सर्वधर्म प्रार्थना सभा का आयोजन, पीस मार्च तथा महाबोधि मंदिर परिसर में आयोजित सेमिनार हर कार्यक्रम से लोगों के बीच शांति का पैगाम देना इसी दिशा के प्रयास हैं।

विभिन्न धर्मो के धर्मगुरुओं के द्वारा महाबोधि मंदिर के प्रांगण में वशि्वशांति के लिए की गयी प्रार्थना सीधे तौर पर शांति का संदेश देने के लिए काफी है। बोधगया में धमाके के बाद पहली बार बौद्ध महोत्सव का आयोजन बढ़ चढ़कर किया गया।

इसमें देश दुनिया से भारी संख्या में बौद्ध श्रद्धालुओं ने हिस्सा लेकर महोत्सव के माध्यम से एक बार फिर पूरे दुनिया को यह संदेश दिया कि तथागत की भूमि शांति व अहिंसा की भूमि है। सूबे की सरकार द्वारा बोधगया से दुनिया को शांति और अहिंसा का संदेश देने के ख्याल से सही मायने में इस बौद्ध महोत्सव का अंतरराष्ट्रीय बौद्ध महोत्सव बनाने का प्रयास किया जा रहा है।

सूबे के पर्यटन विभाग और जिला प्रशासन ने अपनी तरफ से महोत्सव को अंतर्राष्ट्रीय महोत्सव बनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। महोत्सव का पहली बार लाइव टेलिकास्ट कराया जा रहा है तथा इसके कवरेज के लिए कई देशों के पत्रकार भी बोधगया पहुंचे हैं। सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस महोत्सव का उद्घाटन किया और देश विदेश से आये बौद्ध मेहमानों को बताया कि यहा की यहां की शांति भंग करने वालों का मंसूबा कभी सफल नहीं हो सकता।

वहीं भारत, श्रीलंका, वियतनाम, थाईलैंड़, दक्षिण कोरिया, जापान, तिब्बत आदि देशों के सांस्कृतिक कलाकार भगवान बुद्ध की जीवनी पर आधारित प्रस्तुति देकर शांति का मार्ग बताते हुए पूरी दुनिया को शांति और अहिंसा का पाठ पढ़ा रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धमाके शांति के उद्देश्य को रोक नहीं सकते : नीतीश